class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंभीर और बालाजी ने दिलाई केकेआर को पहली जीत

गंभीर और बालाजी ने दिलाई केकेआर को पहली जीत

कप्तान गौतम गंभीर के अर्धशतक के बाद लक्ष्मीपति बालाजी की धारदार गेंदबाजी से कोलकाता नाइट राइडर्स ने मंगलवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर को 42 रन से हराकर इंडियन प्रीमियर लीग पांच में पहली जीत दर्ज की।

केकेआर ने गंभीर (64) और मानविंदर बिस्ला (46) की आक्रामक पारियों की मदद से आठ विकेट पर 165 रन का स्कोर खड़ा किया था। इसके जवाब में मेजबान टीम ने बालाजी (18 रन पर चार विकेट) और जाक कैलिस (सात रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और नौ विकेट पर 123 रन ही बना सकी। बेंगलूर की ओर से आर विनय कुमार ने पारी की अंतिम गेंद पर आउट होने से पहले सर्वाधिक 25 रन बनाए। साकिब अल हसन ने भी 21 रन देकर दो विकेट चटकाए। कोलकाता नाइट राइडर्स की तीन मैचों में यह पहली जीत है जबकि बेंगलूर की टीम की दो मैचों में पहली हार।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे बेंगलूर की शुरुआत काफी खराब रही और उसने 10वें ओवर में 33 रन तक पांच विकेट गंवा दिए। कैलिस ने दूसरे ओवर में ही चेतेश्वर पुजारा (6) को स्लिप में यूसुफ पठान के हाथों कैच कराया जबकि उनके अगले ओवर में आक्रामक बल्लेबाज क्रिस गेल (2) भी मिड आन पर लक्ष्मी रतन शुक्ला को कैच देकर पवेलियन लौट गए।

विराट कोहली (6) ने आते ही कैलिस पर चौका जड़ा लेकिन बालाजी ने अपने पहले ओवर में ही उन्हें प्वाइंट पर मनोज तिवारी के हाथों कैच कराकर छह ओवर में बेंगलूर का स्कोर तीन विकेट पर 20 रन कर दिया। बालाजी ने इसके बाद एबी डिविलियर्स (10) को बोल्ड किया जबकि मयंक अग्रवाल (5) को एक्सट्रा कवर में गंभीर के हाथों कैच कराया। विटोरी ने बालाजी पर दो चौके जड़कर अच्छी शुरुआत की।

विटोरी ने रजत भाटिया के अगले ओवर में लगातार गेंदों पर छक्का और चौका जड़ा लेकिन बालाजी ने उन्हें बोल्ड करके स्कोर छह विकेट पर 60 रन कर दिया। विटोरी ने 12 गेंद में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाए। बेंगलूर को अंतिम आठ ओवर में जीत के लिए 105 रन की दरकार थी जबकि उसके केवल चार विकेट शेष थे और ऐसे में रेयान टेन डोएशे ने सौरव तिवारी (18) को आउट करके अपनी टीम की जीत लगभग सुनिश्चित कर दी।

इससे पहले कोलकाता के कप्तान गौतम गंभीर ने 39 गेंद में नौ चौकों और एक छक्के की मदद से 64 रन की पारी खेलने के अलावा जाक कैलिस (22) के साथ पहले विकेट के लिए 60 और मानविंदर बिस्ला (46) के साथ 65 रन जोड़े।

केकेआर का स्कोर एक समय 13 ओवर में एक विकेट पर 123 रन था लेकिन बेंगलूर के गेंदबाजों ने अपनी टीम को वापसी दिलाते हुए अंतिम सात ओवर में केवल 42 रन खर्च करते हुए सात विकेट चटकाकर मेहमान को 165 रन तक ही रोक दिया। आर विनय कुमार ने किफायती गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में सिर्फ 18 रन देकर दो विकेट चटकाए। जहीर खान और मुथैया मुरलीधरन ने भी 31-31 रन देकर दो-दो विकेट हासिल किए।

टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरे केकेआर को कप्तान गंभीर और कैलिस ने तूफानी शुरुआत दिलाई। दोनों ने शुरू से ही लगभग 10 रन प्रति ओवर की गति से रन जोड़े। कैलिस ने जहीर पर चौके के साथ खाता खोला जबकि उनके अगले ओवर में भी दो चौके मारे। गंभीर ने युवा हर्षल पटेल को निशाना बनाया और उनके ओवर में दो चौके और एक छक्के सहित 15 रन जोड़े। गंभीर ने जहीर पर भी लगातार दो चौके मारे जबकि कैलिस ने दिग्गज स्पिनर मुरलीधरन का स्वागत छक्के के साथ किया। दोनों ने पावरप्ले के छह ओवर में 60 रन जोड़े।

बेंगलूर के कप्तान डेनियल विटोरी सातवें ओवर में खुद गेंदबाजी को उतरे और उन्होंने दूसरी गेंद पर की कैलिस को आउट कर दिया जो शरीर के करीब की गेंद को कट करने की कोशिश में विकेटकीपर एबी डिविलियर्स को कैच दे बैठे।

गंभीर को इसके बाद बिस्ला के रूप में भरोसेमंद जोड़ीदार मिला। बिस्ला ने आते ही आक्रामक तेवर दिखाए और विराट कोहली पर छक्का और चौका जड़ा। दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने विटोरी और हर्षल की गेंदों को भी बाउंड्री के पार पहुंचाया। गंभीर ने इस बीच विनय कुमार की गेंद पर चौके के साथ सिर्फ 28 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। बिस्ला अगले ओवर में मुरलीधरन की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में स्टंप हो गए। उन्होंने 29 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और तीन छक्के मारे। आरसीबी ने यहीं से मैच में वापसी की।

केकेआर ने तेजी से रन बटोरने के लिए यूसफ पठान को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा लेकिन वह सिर्फ एक रन बनाने के बाद विनय कुमार की गेंद पर प्वाइंट पर क्रिस गेल को कैच दे बैठे। जहीर के दूसरे स्पैल के लिए वापसी करने पर गंभीर ने उनका स्वागत स्क्वायर लेग बाउंड्री पर चौके के साथ किया लेकिन वह अगली ही गेंद को रिवर्स स्वीप करने की कोशिश में हर्षल को कैच दे बैठे। मनोज तिवारी (2) भी जहीर के इसी ओवर में स्क्वायर लेग बाउंड्री पर मयंक अग्रवाल द्वारा लपके गए।

रेयान टेन डोएशे भी तीन रन बनाने के बाद मुरलीधरन का शिकार बने जबकि साकिब अल हसन (4) को विनय कुमार और लक्ष्मी रतन शुक्ला (5) को हर्षल ने आउट किया।

इससे पहले मैदान पर लगे विज्ञापन होर्डिंग की बिजली की तारों में शॉर्ट सर्किट के कारण 20 मिनट देर से शुरू हुआ। आरसीबी के खिलाड़ी मैदान पर आ गए थे लेकिन काफी लंबा विलंब होने के कारण वे ड्रेसिंग रूम में वापस लौट गए। आयोजकों ने बताया कि विज्ञापन होर्डिंग पर एक बैग रखा था जिससे बिजली की तारों में शॉर्ट सर्किट से आग लग गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गंभीर और बालाजी ने दिलाई केकेआर को पहली जीत