मंगलवार, 28 जुलाई, 2015 | 20:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    कलाम के सम्मान में संसद दो दिनों के लिए स्थगित, मंत्रिमंडल ने शोक जताया बढ़ चला बिहार कार्यक्रम को हाईकोर्ट का झटका, ऑडियो-विडियो प्रदर्शन पर रोक CCTV में कैद हुए गुरदासपुर हमले के गुनहगार, AK-47 लिए सड़कों पर घूमते दिखे आतंकी साड़ी, शॉल, आम की कूटनीति बंद कर पाकिस्तान के खिलाफ इंदिरा जैसा साहस दिखाये PM मोदी 29 जुलाई से बाजार में आएगा माइक्रोसॉफ्ट ओएस विंडोज-10  पीएम मोदी ने दी कलाम को श्रद्धांजलि, बोले- भारत ने खोया अपना रत्न कलाम का अंतिम संस्कार रामेश्वरम में होगा, पीएम मोदी सहित कई हस्तियों के पहुंचने की संभावना अग्नि की सफलता का श्रेय कलाम ने इंदिरा की दूरदर्शिता को दिया था याकूब मामले पर सुप्रीम कोर्ट के जजों के बीच मतभेद, अब बड़ी बेंच में होगी सुनवाई सात दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा लेकिन कोई छुटटी नहीं
विप्रो खरीदेगी सिंगापुर की कंपनी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:08-12-2012 05:19:31 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

विप्रो लिमिटेड ने सौदर्य प्रसाधन बनाने वाली सिंगापुर की कंपनी एलडी वैक्ससंस समूह को खरीदने की घोषणा की है। सौदा 14.4 करोड़ डॉलर (करीब 790 करोड़ रुपए) में होगा।

कंपनी ने शनिवार को एक बयान में कहा कि उसने एलडी वैक्ससंस समूह की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए पक्का समझौता किया है। इसके तहत समूह बायो इसेंस और जिनवेरा क्रिमों का स्वामित्व विप्रो को हस्तांतरित करेगा।

बयान के मुताबिक इस सौदे के 60 दिनों के भीतर पूरी होने की उम्मीद है। इसके बारे में विप्रो कंज्यूमर केयर एंड लाइटनिंग के अध्यक्ष विनीत अग्रवाल ने कहा कि हम एलडी वैक्ससंस को रणनीतिक लिहाज से बेहतर मानते हैं। इससे हमें मलेशिया में त्वचा की देखभाल कारोबार को सशक्त बनाने में मदद मिलेगी।

एलडी वैक्संस समूह एक अग्रणी कंपनी है जिसके उत्पादों में बायो इसेंस और जिनवेरा जैसे स्कीनकेयर ब्रांड, एबिने जैसे स्वास्थ्य क्षेत्र के ब्रांड हैं। कंपनी के विनिर्माण संयंत्र चीन और मलेशिया में स्थित हैं और सिंगापुर, मलेशिया, चीन, ताइवान, हांगकांग और थाइलैंड के बाजारों पर अच्छी खासी पकड़ है। समूह ने वित्त वर्ष 2012 में 6.8 करोड़ डॉलर का कारोबार किया।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingप्रतिबंध हटाने के लिए बीसीसीआई से संपर्क करूंगा: श्रीसंत
जब वह तिहाड़ जेल में था तो वह आत्महत्या के बारे में सोच रहा था लेकिन तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को अब उम्मीद बंध गई है कि वह वापसी कर सकते हैं और खुद पर लगे प्रतिबंध को हटाने के लिये वह बीसीसीआई से संपर्क करेंगे।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड