रविवार, 19 अप्रैल, 2015 | 06:35 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
सहारा रियल्टी कंपनी का इरादा संदेहजनक: सर्वोच्च न्यायालय
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-12-12 08:36 PM
Image Loading

सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को सहारा समूह की रियल्टी कंपनी को फटकार लगाई और कहा कि निवेशकों का पैसे लौटाने में कंपनी का इरादा संदेहास्पद है। कंपनी ने वैकल्पिक रूप से पूरी तरह परिवर्तनीय डिबेंचर योजना के तहत निवेशकों से पैसे जुटाए थे।

मुख्य न्यायाधीश अल्तमस कबीर, न्यायमूर्ति एस.एस. निज्जर और न्यायमूर्ति जे. चेलामेस्वर की पीठ ने कहा कि (निवेशकों के पैसे) लौटाने का आपका इरादा नहीं है। आपका इरादा संदेहास्पद है। सहारा इंडिया रियल एस्टेट कारपोरेशन और सहारा हाउसिंग इनवेस्टमेंट कारपोरेशन ने शेयर अपीलीय न्यायाधिकरण द्वारा जारी एक आदेश को अदालत में चुनौती दी है।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingरसेल ने दिलाई केकेआर को किंग्स इलेवन पर जीत
आंद्रे रसेल ने दो महत्वपूर्ण विकेट लिए, दो खूबसूरत कैच लपके और मुश्किल परिस्थितियों में आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करके नाबाद अर्धशतक जमाया जिससे मौजूदा चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स ने आईपीएल आठ के मैच में खराब शुरुआत के बावजूद किंग्स इलेवन पंजाब को 13 गेंद शेष रहते हुए चार विकेट से हराया।