गुरुवार, 03 सितम्बर, 2015 | 05:18 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
बैंकों ने कहा किंगफिशर के संकेत साकारात्मक नहीं
मुंबई, एजेंसी First Published:30-11-2012 08:43:37 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

किंगफिशर को कर्ज देने वाले बैंकों ने कहा कि ऋण में डूबी विमानन कंपनी में एक अरब डॉलर की ताजा शेयरपूंजी डालने की समयसीमा समाप्त हो गई, लेकिन उन्हें अब तक इस बारे में कुछ कंपनी की ओर से सकारात्मक बात सुनने को नहीं मिली है।

बहरहाल एक प्रमुख बैंक के अधिकारी ने बैंकों तथा विमानन कंपनी के बीच अगले पखवाड़े होने वाली बैठक में कुछ प्रगति होने को लेकर उम्मीद जतायी। भारतीय स्टेट बैंक के उप प्रबंध निदेशक (मझोले कारपोरेट समूह के प्रभारी) श्यामल आचार्य ने कहा कि हमने अब तक नई इक्विटी के बारे में किंगफिशर से कुछ नहीं सुना है।

मुझे उम्मीद है कि बैंकों के समूह तथा एयरलाइन के बीच अगले पखवाड़े बैठक होगी।
 उन्होंने कहा कि विजय माल्या की अगुवाई वाली एयरलाइन के साथ बैठक को लेकर कोई नई तारीख के बारे में अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है। 17 बैंकों के समूह ने कंपनी को 7,000 करोड़ रुपए का कर्ज दिया हुआ है। अकेले एसबीआई ने कंपनी को 1,200 करोड़ रुपए का कर्ज दे रखा है।

स्टेट बैंक के चेयरमैन प्रतीप चौधरी ने इस महीने की शुरूआत में यूबी समूह की कंपनी किंगफिशर से कम-से-कम एक अरब डॉलर (करीब 5,400 करोड़ रुपए) नवंबर के अंत तक लाने को कहा था।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में 22 साल बाद भारत ने टेस्ट सीरीज जीती
भारतीय क्रिकेट टीम ने सिंहलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर जारी तीसरे टेस्ट मैच के पांचवें दिन श्रीलंका को 117 रनों से हराया। इस जीत के साथ भारत ने 22 साल बाद टेस्ट सीरीज पर कब्जा कर इतिहास रचा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

मैथ नहीं जानते
टीचर-सोनू, तुम्हारे पापा ने 10 प्रतिशत के सालाना ब्याज पर 5000 रुपए कर्ज लिए। वे एक साल बाद कर्ज वापस करते हैं, बताओ वह कुल कितने पैसे वापस करेंगे?
सोनू-कुछ भी नहीं।
टीचर (गुस्से में)-तुम मैथ नहीं जानते।
सोनू-सर, मैं तो मैथ जानता हूं, पर आप मेरे पिताजी को नहीं जानते