रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 11:28 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आज मोदी की चाय पार्टी में शामिल हो सकते हैं शिवसेना सांसद शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी
ईपीएफओ जनवरी में तय कर सकता है पीएफ ब्याज दर
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:20-12-12 04:42 PM

सेवानिवृत्ति कोष के संचालक ईपीएफओ में निर्णय करने वाला शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) 2012-13 के लिए पीएफ जमा पर ब्याज दर पर अपनी अगली बैठक में निर्णय कर सकता है। यह बैठक 15 जनवरी को प्रस्तावित है।

एक सूत्र ने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के न्यासी 15 जनवरी को होने वाली बैठक में पीएफ जमाओं पर ब्याज दर तय करने के प्रस्ताव पर चर्चा कर सकते हैं।

ईपीएफओ ने एक नोटिस भी जारी किया जिसमें कहा गया है कि केंद्रीय न्यासी बोर्ड की 201वीं बैठक 15 जनवरी, 2013 को मुंबई में होनी है।

मौजूदा व्यवस्था के तहत, श्रम मंत्री की अध्यक्षता वाले केंद्रीय न्यासी बोर्ड द्वारा ब्याज दर पर निर्णय किए जाने के बाद इसे सहमति के लिए वित्त मंत्रालय के पास भेजा जाता है।

सूत्रों ने कहा कि ईपीएफओ के आरंभिक अनुमानों से संकेत मिलता है कि अगर वह अपने 5 करोड़ से अधिक अंशधारकों को 8.6 प्रतिशत ब्याज का भुगतान करती है तो उसके पास ना ही आधिक्य बचेगा, और ना ही उसे घाटा होगा।

हालांकि, यूनियनें ब्याज दर 8.8 प्रतिशत के समान या इससे अधिक रखे जाने की मांग कर रही हैं। हिंद मजदूर सभा के सचिव एड़ी़ नागपाल जो ईपीएफओ के न्यासी भी हैं, के अनुसार हम चालू वित्त वर्ष के लिए बैठक में 9.5 प्रतिशत ब्याज दर की मांग करेंगे। यह मौजूदा बैंक जमाओं की दरों के मुताबिक होना चाहिए जो अभी नौ से 10 प्रतिशत के दायरे में हैं।
 
 
 
टिप्पणियाँ