गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 01:41 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी बलात्कार मामलों में कोई समझौता नहीं, औरत का शरीर उसके लिए मंदिर के समान होता है: सुप्रीम कोर्ट अब यूपी पुलिस 'चुड़ैल' को ढूंढेगी, जानिए क्या है पूरा मामला  खुलासा: एक रुपया तैयार करने का खर्च एक रुपये 14 पैसे दार्जिलिंग: भूस्‍खलन के कारण 38 लोगों की मौत, पीएम ने जताया शोक, 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान यूनान ने किया डिफॉल्ट, नहीं चुकाया अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष का कर्ज विकी‍पीडिया पर नेहरू को मुस्लिम बताये जाने पर भड़की कांग्रेस, पूछा अब क्या कार्रवाई करेगी मोदी सरकार PHOTO: जब मंत्रीजी ने पकड़ी लेडी डॉक्टर की कॉलर और बोले... ललित मोदी के ट्वीट पर बवाल, भाजपा नहीं करेगी वरुण गांधी का बचाव
वालमार्ट ने 80 से अधिक मुद्दों पर की लॉबिंग
वाशिंगटन, एजेंसी First Published:12-12-12 03:31 PM

खुदरा क्षेत्र की दिग्गज अमेरिकी कंपनी वालमार्ट ने पिछले पांच साल में नौ अलग अलग श्रेणियों में करीब 80 मुद्दों पर अमेरिकी सांसदों का सहयोग जुटाने के लिए लॉबिंग की है। कंपनी ने अमेरिकी संसद के समक्ष पेश तिमाही ब्योरे में इसका खुलासा किया है।

वालमार्ट द्वारा इस बारे में नियमों के तहत प्रस्तुत तिमाही रपट से में उसने बताया है कि उसकी ओर से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर के विभिन्न मुद्दों पर लॉबिंग की गयी। इनमें सीटी, दिग्सूचक यंत्र और क्रिसमस ट्री लैम्प पर शुल्क को अल्पकालिक एस से निलंबित करने से लेकर भूखमरी पर परिचर्चा, पोषण नीति, संगठित खुदरा अपराध कानून, चीन द्वारा विनिमय दर में हेरफेर जैसे मुद्दे शामिल हैं।

तिमाही रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी द्वारा लॉबिंग के लिए चुने गए मुद्दों में खाद्य उद्योग, कराधान, वित्तीय संस्थानों, स्वास्थ्य, श्रम, दवा, परिवहन, उपभोक्ता, सुरक्षा, उत्पादों, ऊर्जा और परमाणु से जुड़े मुद्दें शामिल हैं।

कंपनी प्रवक्ता ने भारत में एफडीआई समेत विभिन्न मुद्दों पर किए गए खर्च का अलग-अलग ब्योरा देने से इंकार किया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड