मंगलवार, 30 सितम्बर, 2014 | 11:24 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
भावी नीतिगत पहल मुद्रास्फीति के परिदृश्य से प्रभावित होगी: आरबीआईआरबीआई ने चालू वित्त वर्ष के लिए आर्थिक वृद्धि का अनुमान 5.5 प्रतिशत पर बरकरार रखाआरबीआई ने नीतिगत ब्याज दरें 8 प्रतिशत पर अपरिवर्तित रखींजयललिता पर हाईकोर्ट में सुनवाई टली, अब सोमवार को होगी सुनवाई
 
खुदरा बाजार की महंगाई से चिंतित रिजर्व बैंक
मुंबई, एजेंसी
First Published:18-12-12 03:21 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

रिजर्व बैंक ने थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति में आई नरमी पर तो संतोष जताया, लेकिन खुदरा बाजार की मुद्रास्फीति को लेकर उसकी चिंता साफ झलकती है।

केन्द्रीय बैंक ने कहा है कि थोक मूल्य सूचकांक के उलट खुदरा मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति लगातार उच्च स्तर पर बनी हुई है। सब्जियों, अनाज, दलहन, तेल और वसा आदि वस्तुओं के दाम बढ़ने से खाद्य वस्तुओं के वर्ग में मुद्रास्फीति का दबाव साफ झलकता है।

रिजर्व बैंक की मंगलवार को जारी मध्य तिमाही समीक्षा में मुद्रास्फीति के बारे में कोई नया अनुमान तो घोषित नहीं किया गया, लेकिन खुदरा मुद्रास्फीति के उंचा बने रहने पर बैंक ने जरुर कुछ चिंता दिखाई है। बैंक ने कहा है कि इस सूचकांक में गैरखाद्य वर्ग में भी मुद्रास्फीतिक दबाव झलकता है।

नवंबर में थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फीति घटकर 7.24 प्रतिशत रह गई, लेकिन खुदरा मूल्य सूचकांक पर अधारित मुद्रास्फीति बढ़कर 9.90 प्रतिशत हो गई। थोक में जहां खनिज, ईंधन और सब्जियों के दाम घटने से नरमी आई, वहीं इसमें प्रोटीन आधारित वसतुओं जैसे अंडा, मछली और मीट के दाम मजबूती में रहे।

समीक्षा में कहा गया है कि मौसम के हिसाब से तालमेल बिठाते हुए तीन महीने का औसत वार्षिक सूचकांक भी थोक मुद्रास्फीति दबाव में नरमी का संकेत देता है।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°