शुक्रवार, 19 दिसम्बर, 2014 | 19:48 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुनव्वर राणा को उर्दू में मिला साहित्य अकादमी पुरस्कारसाहित्य अकादमी पुरस्कार की घोषणागुवाहटी से आ रही अवध आसाम ट्रेन में एनसीसी की लड़कियों से छेड़छाड़ में एनसीसी का ग्रुप कैप्टन और उसका साथी गिरफ्तार। सभी लड़कियां चंदौसी की रहने वाली हैं और शिलांग में आयोजित कैंप में गई थी।ऊंचाहार एक्सप्रेस में दो भाइयों से लूट, चाकू मारावित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में पेश किया जीएसटी बिलअरुण जेटली ने कहा, जीएसटी से नहीं होगा किसी राज्य का नुकसानजीएसटी बिल संसद में पेश किया गयाबीजेपी की शिकायत पर हेमंत शोरेन, बसंत शोरेन, और सीएम के बॉडीगार्ड पर एफआईआर दर्ज
रिलायंस ने किया सेज की अधिसूचना रद्द करने का आवेदन
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:08-01-13 07:52 PM
Image Loading

निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने गुजरात स्थित विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) के 40 प्रतिशत से अधिक क्षेत्र को गैर-अधिसूचित करने के लिए आवेदन किया है। कंपनी ने इस क्षेत्र में घरेलू बाजार की जरुरतों को पूरा करने के लिए 45,000 करोड़ रुपए की योजना बनाई है।

रिलायंस का बहुउत्पादीय सेज 1,764.14 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है। कंपनी इसमें से 728.43 हेक्टेयर क्षेत्र की अधिसूचना रद्द कराना चाहती है। इसके बाद 1,035.72 हेक्टेयर भूमि बहु उत्पाद सेज के लिए रह जाएगी।

सूत्रों का कहना है कि गैर-अधिसूचित क्षेत्र में कंपनी 45,000 करोड़ रुपए का निवेश करना चाहती है। इस नई परियोजना से घरेलू बाजार की जरुरतों को पूरा किया जाएगा। वाणिज्य सचिव एसआर राव की अध्यक्षता वाले अंतरमंत्रालयी मंजूरी बोर्ड की 18 जनवरी को होने वाली बैठक में रिलायंस के प्रस्ताव पर विचार किया जाएगा।

रिलायंस के जामनगर स्थित सेज में दैनिक 5,80,000 बैरल प्रतिदिन उत्पादन क्षमता की रिफाइनरी है। इस रिफाइनरी में बनने वाले पेट्रोलियम उत्पादों का वेनेजुएला, मैक्सिको के अलावा अमेरिका और यूरोप को निर्यात किया जाता है। इसके साथ ही 3.30,000 करोड़ टन क्षमता की पुरानी रिफाइनरी है जिसके उत्पाद घरेलू बाजार में बेचे जाते हैं।

विकास आयुक्त ने अपनी सिफारिश में कहा है कि विशुद्ध रूप से निर्यात संचालन वाले इस क्षेत्र को गैर-अधिसूचित किए जाने की अनुमति इस शर्त के साथ दी जा सकती है कि कंपनी क्षेत्र में अब तक मिले सभी तरह के कर लाभ के रिफंड को तैयार हो।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड