शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 00:27 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नौकरानी की हत्या: धनंजय को जमानत, जागृति के रिकार्ड मांगे अमर सिंह के समाजवादी पार्टी में प्रवेश पर उठेगा पर्दा योगी आदित्य नाथ ने दी उमा भारती को चुनौती देश में मौजूद कालेधन पर रखें नजर : अरुण जेटली शिक्षा को लेकर मोदी सरकार पर आरएसएस का दबाव कोयला घोटाला: सीबीआई को और जांच की अनुमति सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं
कॉरपोरेट बांड बाजार महत्वपूर्ण: गोकर्ण
मुंबई, एजेंसी First Published:22-12-12 05:25 PM
Image Loading

रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर सुबीर गोकर्ण ने शनिवार को कहा कि ढांचागत परियोजनाओं के वित्त पोषण के लिए एक जबरदस्त कॉरपोरेट बांड  बाजार की जरूरत है।

यहां बीएसई द्वारा बांड बाजार पर आयोजित एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए गोकर्ण ने कहा कि एक मजबूत कॉरपोरेट बांड बाजार को विकसित करने को लेकर यह  बहस महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने अगले पांच साल में ढांचागत क्षेत्र में 1,000 अरब डॉलर का निवेश करने का लक्ष्य रखा है और यह भी हासिल किया जा सकेगा जब एक मजबूत कॉरपोरेट बांड बाजार का विकास हो।

गोकर्ण ने कहा कि विदेशी पूंजी ढांचागत क्षेत्र में वित्त पोषण में एक अहम भूमिका निभाने जा रही है, इसलिए इस पूंजी को सुविधा प्रदान करने की कोई दरकार नहीं है।

डिप्टी गवर्नर ने इस ओर भी संकेत किया कि मलेशिया और थाइलैंड जैसी पूर्वी एशियाई अर्थव्यवस्थाओं ने प्रभावी तरीके से एक जबरदस्त बांड बाजार विकसित किया है।

 
 
 
टिप्पणियाँ