शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 02:59 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    रैना बोले कभी गलत कामों में शामिल नहीं रहा, ललित मोदी के खिलाफ करेंगे कानून कार्रवाई सात दिन बाद केदारनाथ यात्रा शुरू, बदरीनाथ अभी भी ठप एल्गिन चरसडी बंधे में दरार, 72 गांवों पर भयावह बाढ़ का खतरा किरण को पीएम ने किया सम्मानित, 5000 लोगों का बनाया डिजिटल लॉकर VIDEO: देखें रांची में अनूप चावला को कैसे मारी गई गोली  कमल किशोर भगत को हाईकोर्ट से मिली जमानत ब्रजघाट: गंगा में फंसे दिल्‍ली के परिवार को बचाया गया रिजिजू मामले को लेकर हरकत में आई सरकार, उड़ानों में देरी पर नागरिक उड्डयन मंत्रालय से मांगी रिपोर्ट 2 लाख करोड़ की अपनी जायदाद दान करने वाला है ये शख्स गांवों में हाईस्पीड ब्राडबैंड पहुंचाने की योजना को हाथोंहाथ ले रहे हैं राज्य
गेंहू का रकबा रबी सत्र में तीन प्रतिशत घटा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:30-11-12 08:44 PM
Image Loading

रबी सत्र में अभी तक गेहूं बुवाई का रकबा तीन प्रतिशत घटकर 157.89 लाख हेक्टेयर रह गया है। कृषि मंत्रालय द्वारा जारी ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है।

वर्ष भर पहले की समान अवधि में प्रमुख रबी फसल (जाड़े में बोई जाने वाली फसल) गेहूं का रकबा 162.5 लाख हेक्टेयर था। गेहूं के दुनिया में दूसरे सबसे बड़े उत्पादक देश भारत ने 2011-12 के फसल वर्ष (जुलाई से जून) में रिकॉर्ड 9.39 करोड़ टन गेहूं का उत्पादन किया था।

एक सरकारी बयान में कहा गया है कि विभिन्न राज्यों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार देश के विभिन्न भागों में रबी फसल की बुवाई प्रगति पर है। अभी तक चावल खेती का रकबा भी 19 प्रतिशत घटकर 0.85 लाख हेक्टेयर रह गया है जो पिछले रबी सत्र की समान अवधि में 1.05 लाख हेक्टेयर था।

मोटे अनाज के खेती का रकबा घटकर 46.15 लाख हेक्टेयर रह गया जो वर्ष भर पहले की समान अवधि में 44.83 लाख हेक्टेयर था। इसी प्रकार दलहन का रकबा भी चालू रबी सत्र में अभी तक 6.45 प्रतिशत घटकर 102.49 लाख हेक्टेयर रह गया है जो वर्ष भर पहले की समान अवधि में 109.56 लाख हेक्टेयर था।

हालांकि तिलहन खेती का रकबा पहले के 66.76 लाख हेक्टेयर के मुकाबले थोड़ा अधिक यानी 66.84 लाख हेक्टेयर है। रबी सत्र में अभी तक कुल खेती का रकबा करीब 10.48 लाख हेक्टेयर कम यानी 374.22 लाख हेक्टेयर है।

भारत ने 2011-12 के फसल वर्ष में 25 करोड़ 74.4 लाख टन खाद्यान्न का रिकॉर्ड उत्पादन किया था। देश के कुछ भागों में खराब मानसून के कारण चालू फसल वर्ष 2012-13 में उत्पादन घटकर 25 करोड़ टन रह जाने की उम्मीद है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingरैना बोले कभी गलत कामों में शामिल नहीं रहा, ललित मोदी के खिलाफ करेंगे कानून कार्रवाई
एक व्यवसायी से रिश्वत लेने के ललित मोदी के आरोपों को खारिज करते हुए भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना ने आज कहा कि वह पूर्व आईपीएल आयुक्त के लिये कानूनी कार्रवाई करने पर विचार कर रहे हैं।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड