बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 15:55 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    ललित मोदी के खिलाफ गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी पाकिस्तान की भारत को धमकी, कहा उकसाया तो देंगे करारा जवाब  सांसदों के निलंबन के विरोध में कांग्रेस का धरना दूसरे दिन भी जारी PHOTOS: इन 10 तस्वीरों में देखिए कैसे पकड़ा गया आतंकी उस्मान उर्फ कासिम खान  रेल हादसे में बचाव कार्य के लिए अब गोताखोर भी लगाए गए सेना के जवानों को राहत अभियान के लिए हरदा भेजा गया रेलवे ने दिए हरदा में हुए दोहरे ट्रेन हादसे की जांच के आदेश हरदा में ट्रेन हादसे के बाद वारणसी में परिजनों मे बढ़ी बेचैनी 'पटरी पर बाढ़ का पानी आने के कारण ट्रेनें पटरी से उतरीं' तस्वीरों में देखें मध्य प्रदेश के हरदा में हुआ दोहरा ट्रेन हादसा
किंगफिशर की उड़ान परिमट अवधि समाप्त हुई
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:31-12-2012 10:58:56 PMLast Updated:31-12-2012 11:39:40 PM
Image Loading

वित्तीय संकट में बुरी तरह फंसी निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के उड्डयन लाइसेंस की वैधता अवधि सोमवार को खत्म हो गई। संचालन फिर से शुरू कर पाने की कोई उम्मीद नहीं दिखने के कारण कंपनी के शेयरों में सोमवार को गिरावट दर्ज की गई।

बताया गया कि नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने कंपनी से यह जानकारी मांगी थी कि उड़ानों का संचालन फिर से शुरू करने की योजना के लिए धन की व्यवस्था कैसे होगी। लाइसेंस के नियमित नवीनीकरण की आखिरी तिथि 31 दिसंबर थी।

कंपनी ने पिछले सप्ताह महानिदेशालय के पास शिड्यूल्ड ऑपरेटर्स परमिट (एसओपी) के नवीनीकरण के लिए आवेदन किया था। विमानन कंपनी के कर्मचारियों द्वारा बकाए वेतन के भुगतान के लिए की गई हड़ताल के बाद एक अक्टूबर से कंपनी उड़ानों का संचालन नहीं कर पाई।

इसके बाद महानिदेशालय ने 20 अक्टूबर को कंपनी का परमिट निलंबित कर दिया था, क्योंकि कंपनी उड़ानों का संचालन शुरू कर पाने की भरोसेमंद योजना पेश नहीं कर पाई थी। नियमों के मुताबिक कंपनी के पास हालांकि दो सालों में लाइसेंस फिर से हासिल करने की मोहलत होगी। लेकिन इससे पहले उसे वित्तीय प्रबंधन की ठोस योजना लेकर सामने आना होगा।

उड़ानों का संचालन फिर से शुरू करने की योजना में कंपनी ने कहा था कि उसे एक साल में वेतन के भुगतान, संचालन तथा अन्य मदों पर खर्च के लिए 6.52 अरब रुपए की जरूरत होगी। कंपनी पर 7,524 करोड़ रुपये का भारी भरकम कर्ज है तथा उसे अब तक 8,000 करोड़ रुपए का घाटा हो चुका है।

कर्जदाताओं ने हाल में कंपनी के प्रमोटर विजय माल्या की बैंक गारंटी की मांग को ठुकरा दिया, जबकि विजय माल्या ने फरवरी तक कंपनी के शेयरों में 105 करोड़ रुपए का निवेश करने का वादा किया था। कंपनी ने अबूधाबी की विमानन कंपनी एतिहाद एयरवेज से निवेश हासिल करने की भी कोशिश की, लेकिन इस कोशिश में उसे अब तक सफलता नहीं मिली।

सोमवार को बंबई स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी के शेयर 2.36 फीसदी गिरावट के साथ 14.92 रुपए पर बंद हुए। दिन भर के कारोबार में कंपनी के शेयरों ने 14.75 रुपये का निचला स्तर छुआ। पिछले कारोबारी सत्र में कंपनी के शेयर 15.28 रुपए पर बंद हुए थे।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingललित मोदी के खिलाफ गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी
धन शोधन रोकथाम कानून से संबंधित एक विशेष अदालत ने धन शोधन के एक मामले में प्रवर्तन निदेशालय के एक आवेदन पर आईपीएल के पूर्व प्रमुख ललित मोदी के खिलाफ आज गैर जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।