रविवार, 02 अगस्त, 2015 | 11:49 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बिहार के जमुई में दीवार गिरने से दो लोगों की मौतयूपी के संभल में पुलिस हिरासत में लिए गए युवक की मौत। युवक का शव घर के पास एक खेत में मिला। गुस्साए परिजनों ने संभल-मुरादाबाद मार्ग पर लगाया जाम, हंगामा जारी। कई थानों की पुलिस को मौके पर।
ईंधन कीमतों में वृद्धि जरूरी: मोंटेक
मुंबई, एजेंसी First Published:28-12-2012 09:38:32 PMLast Updated:28-12-2012 11:37:46 PM
Image Loading

योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने शुक्रवार को  कहा कि ईंधन कीमतों में अगर वृद्धि नहीं होती है तो राजकोषीय घाटा और बढ़ेगा जो पहले से ही उच्च स्तर पर है।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कल ईंधन मूल्यों में चरणबद्ध ढंग से वृद्धि किये जाने पर जोर दिया। उसके बाद अहलूवालिया ने यह बात कही है।

निजी टेलीविजन को दिए साक्षात्कार में अहलूवालिया ने कहा कि कोई भी सरकार खासकर लोकतांत्रित व्यवस्था में कीमत बढ़ाने से बचना चाहती है। लोगों को यह समझना चाहिये कि अगर आप कीमत नहीं बढ़ायेंगे तो उसका दूसरे क्षेत्रों पर असर होगा।

पेट्रोलियम वस्तुओं का दाम नहीं बढ़ाने के परिणाम के बारे में अहलूवालिया ने कहा कि इससे सब्सिडी का बोझ बढ़ेगा, जिससे बजट पर दबाव बढ़ेगा, सामाजिक क्षेत्र की योजनाओं पर खर्च करने के लिये संसाधन कम होंगे तथा तेल कंपनियों की स्थिति और खराब होगी।

राष्ट्रीय विकास परिषद की बैठक को कल संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने पेट्रोलियम उत्पादों, कोयला तथा बिजली दरों में चरणबद्ध तरीके से वृद्धि किये जाने पर जोर दिया। अहलूवालिया ने कहा कि हाल में डीजल के दाम में वृद्धि के बावजूद पेट्रोलियम उत्पादों पर तेल कंपनियों को 1,60,000 करोड़ रुपए का नुकसान होने का अनुमान है। इससे बजट पर बोझ पड़ना तय है।

सस्ते रसोई गैस सिलेंडरों की संख्या सीमित किये जाने पर उन्होंने कहा कि इन चीजों के दाम जितना बढ़ाये जाने की जरूरत है, हम उसका मूल्य उतना नहीं बढ़ा पा रहे हैं। ऊर्जा कीमतों को वैश्विक दरों से जोड़े जाने की वकालत करते हुए उन्होंने कहा, हमें ऊर्जा सब्सिडी का बोझ कम करने की जरूरत है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingआक्रामक शैली बरकरार रखें कोहली: द्रविड़
राहुल द्रविड़ को बतौर टेस्ट कप्तान श्रीलंका में पहली पूर्ण सीरीज खेलने जा रहे विराट कोहली के कामयाब रहने का यकीन है और उन्होंने कहा कि कोहली को अपनी आक्रामक शैली नहीं छोड़नी चाहिए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?