सोमवार, 31 अगस्त, 2015 | 12:15 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
उत्तर प्रदेश: अमरोहा में डेंगू से महिला सभासद की मौत, मेरठ में चल रहा था इलाज, हसनपुर नगर पालिका में वार्ड एक की सभासद थी।उत्तर प्रदेश: मुरादाबाद में चाइनीज मांझे ने एक और युवक की गर्दन काटी, हालत गंभीर, रक्षाबंधन के दिन बारह साल के बच्चे की जिंदगी लील गया चाइनीज मांझा, अब तक दो दर्जन से ज्यादा लोग हो चुके हैं घायल।उच्चतम न्यायालय ने जैन समुदाय से जुड़े संगठनों की याचिकाओं पर संथारा को गैरकानूनी घोषित करने वाले राजस्थान उच्च न्यायालय के फैसले पर रोक लगायी।
हल्के आधार पर दावे खारिज कर अमीर बना LIC: आयोग
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:02-12-2012 03:54:40 PMLast Updated:02-12-2012 06:54:46 PM
Image Loading

जीवन बीमा निगम (एलआईसी) मेडिक्लेम पॉलिसी के तहत सही दावों को भी हल्के-फुल्के आधार पर खारिज कर देश का सबसे अमीर संगठन बना है। दिल्ली राज्य उपभोक्ता आयोग ने यह टिप्पणी की है।

आयोग की सदस्य सलमा नूर की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि बीमा कंपनियां में यह प्रवृत्ति देखने को मिलती है कि वे हल्के या मामूली कारणों के आधार पर किसी बीमाधारक के सही दावे को खारिज कर देती हैं। ऐसा लगता है कि एलआईसी इसी तरीके से देश का सबसे अमीर संगठन बना है।

आयोग ने यह टिप्पणी एलआईसी को एक बीमाधारक के पति को 24.2 लाख रुपये का भुगतान करने का आदेश देते हुए की। इसमें मुआवजा और बीमित राशि शामिल हैं। इस महिला की मृत्यु गर्भाशय को हटाने की सर्जरी के दौरान हुई थी। पीठ में वी के गुप्ता भी शामिल थे।

पीठ ने कहा कि एलआईसी को यह जानना चाहिए कि वह ग्राहकों के बूते ही आगे बढ़ रही है। एलआईसी सही दावों को खारिज कर अमीर बन रही है। एलआईसी ने दिल्ली निवासी योगेश बायसिवाला के दावे को इस आधार पर खारिज कर दिया था कि उनकी पत्नी ने बीमा कवर लेते समय यह बात छुपाई थी कि वह दिल की मरीज हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingकोलंबो टेस्ट: भारत को 132 रनों की बढ़त
इशांत शर्मा ( 54 रन पर पांच विकेट) की घातक गेंदबाजी और इससे पहले ओपनर चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 145) रन के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने यहां तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के तीसरे दिन रविवार को अपना शिकंजा कसते हुये मेजबान श्रीलंका के खिलाफ 111 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

सीसीटीवी कैमरों का जमाना है...
पिता: एक समय था, जब मैं 10 रुपए में किराना, दूध, सब्जी और नाश्ता ले आता था..
बेटा: अब संभव नहीं है, पापा अब वहां सीसीटीवी कैमरे लगे होते हैं।