शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 10:54 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता फड़णवीस को मोदी ने चढ़ाईं सत्ता की सीढ़ियां
अक्टूबर में औद्योगिक वृद्धि दर उछलकर 8.2 फीसदी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:12-12-12 03:33 PMLast Updated:12-12-12 06:18 PM
Image Loading

औद्योगिक उत्पादन में ऊंची वृद्धि दर महीनों बाद फिर लौट आयी है। विनिर्माण, बिजली और पूंजीगत व उपभोक्ता उत्पाद क्षेत्र के अपेक्षाकृत वेहतर प्रदर्शन से अक्टूबर 2012 में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक पर आधारित औद्योगिक वृद्धि दर 16 महीने के उच्चतम स्तर 8.2 फीसदी पर पहुंच गयी।

इसे अर्थव्यवस्था की हालत में झटके से सुधार का संकेत मिलता है। वित्त मंत्री चिदंबरम ने आईआईपी के ताजा आंकड़ों को उत्साहजनक बताया और कहा है कि यह अर्थव्यवस्था में नयी कोपले फूटने का संकेत है।

पिछले साल अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन में पांच फीसदी संकुचन हुआ था, जबकि अक्टूबर, 2011 में औद्योगिक वृद्धि दर 9.5 फीसदी थी। आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से अक्टूबर तक औद्योगिक दर 1.2 फीसदी रही जबकि पिछले साल इस दौरान 3.6 फीसदी थी।

संशोधित आंकड़ों के अनुसार, सितंबर,12 में औद्योगिक उत्पादन में गिरावट को संशोधित कर 0.7 फीसदी कर दिया गया है, जबकि पहले यह गिरावट 0.4 फीसद बतायी गयी थी।

औद्योगिक उत्पादन सूचकांक में 75 फीसदी भारांक रखने वाले विनिर्माण क्षेत्र ने इस बार अक्टूबर के दौरान 9.6 फीसदी वृद्धि दर्ज की। पिछले साल इसी माह इस क्षेत्र का उत्पादन छह फीसदी घटा था।

 

 

 
 
 
टिप्पणियाँ