बुधवार, 08 जुलाई, 2015 | 01:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    VIDEO: शाहिद और मीरा विवाह के पवित्र बंधन में बंधे, देखिए दिलकश तस्वीरें कुमाऊं में भारी बारिश से 44 मार्ग बंद, केदार पैदल यात्रा भी नहीं हुई शुरू टर्किश एयरलाइंस के विमान को उड़ान की मंजूरी, कोई बम नहीं मिला दिल्ली छोड़कर जा रहा है 'चीकू', क्या आपको भी है खबर व्यापमं मामला: शिवराज पर बढ़ा दबाव, सीबीआई जांच को हुए तैयार गंगा का जलस्तर बढ़ा, बाढ़ का खतरा सदी की सबसे बड़ी फाइट जीतकर भी हार गए मेवेदर, जानिए कैसे बख्शे नहीं जाएंगे थाने में महिला को जलाकर मारने के दोषी: अखिलेश यादव PHOTO: धौनी के लिए प्रशंसक ने बनवाया खास केक, आप भी देखें गूगल अर्थ में जल्द दिखेगा भारत के शहरों का एरियल व्यू
पेट्रोनेट एलएनजी एडीबी में हिस्सेदारी खरीदेगी आईजीएल
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-01-13 05:25 PM
Image Loading

इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) तरल प्राकृतिक गैस की सबसे बड़ी आयातक कंपनी पेट्रोनेट एलएनजी लिमिटेड में एशियाई विकास बैंक (एडीबी) की 5.2 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की इच्छुक है।

उद्योग सूत्रों के अनुसार आईजीएल प्रबंधन पेट्रोनेट एलएनजी में एडीबी की हिस्सेदारी खरीदने पर विचार कर रही है। पिछले करीब एक साल से इस हिस्सेदारी की बिक्री पेशकश जारी है।

एडीबी की हिस्सेदारी यदि आईजीएल खरीदता है तो इससे पेट्रोनेट की मूल प्रवर्तक कंपनियों और इसके प्रबंधकों के बीच लंबे समय से चला आ रहे विवाद सुलझाने में भी मदद मिलेगी। पेट्रोनेट एलएनजी के चेयरमैन पेट्रोलियम सचिव हैं।

इंडियन ऑयल, ओएनजीसी, गेल और भारत पेट्रोलियम कार्पोरेशन पेट्रोनेट एलएनजी की प्रवर्तक कंपनियां हैं। ये कंपनियों एडीबी की 5.2 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की इच्छुक हैं लेकिन कंपनी प्रबंधन ने इसका विरोध किया। प्रबंधन के अनुसार इससे पेट्रोनेट में सार्वजनिक कंपनियों की होल्डिंग 50 प्रतिशत से अधिक हो जाएगी और ऐसे में पेट्रोनेट एलएनजी भी सरकारी कंपनी बन जाएगी।

सूत्रों का कहना है कि आईजीएल एक निजी क्षेत्र की कंपनी है, यदि वह एडीबी की हिस्सेदारी खरीदती है तो उससे पेट्रोनेट की प्रकृति में कोई बदलाव नहीं आएगा। इससे कंपनी प्रबंधन भी सहमत होगा।

सूत्रों का कहना हे कि आईजीएल के एडीबी की हिस्सेदारी खरीदने से हितों के टकराव के मामलों से भी बचा जा सकेगा। इससे पहले कतर पेट्रोलियम के पेट्रोनेट में एडीबी की हिस्सेदारी खरीदने की चर्चा थी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड