शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 23:37 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नरेंद्र मोदी की चाय पार्टी में नहीं शामिल होंगे उद्धव ठाकरे भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो अमेरिकी विदेश विभाग में पहली बार मनी दीवाली एनआईए प्रमुख ने बर्दवान विस्फोट की जांच का जायजा लिया
फार्च्यून 500 इंडिया सूची में इंडियन आयल प्रथम
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:14-12-12 08:37 PM
Image Loading

सरकारी तेल कंपनी इंडियन आयल कारपोरेशन ने फार्च्यून 500 इंडिया की सूची में अपना अव्वल स्थान बरकरार रखा है। कारोबार के मामले में इंडियन आयल पहले, जबकि रिलायंस इंडस्ट्रीज दूसरे स्थान पर है।

फार्च्यून के भारतीय संस्करण में प्रकाशित इस साल की सूची में 55 नयी कंपनियों ने जगह बनाई है। सूची में 4,20,287 करोड़ रुपये के सालाना कारोबार के साथ इंडियन आयल सबसे बड़ी कंपनी है, जबकि मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली रिलायंस 3,67,539 करोड़ रुपये के सालाना कारोबार के साथ दूसरे पायदान पर काबिज है।

वहीं भारत पेट्रोलियम 2,14,866 करोड़ एपये के कारोबार के साथ तीसरे पायदान पर है। फार्च्यून इंडिया ने कहा कि तीन कंपनियों इंडियन आयल, रिलायंस इंडस्ट्रीज और भारत पेट्रोलियम ने पिछले साल की रैकिंग बरकरार रखी है।

हिंदुस्तान पेट्रोलियम 1,87,693 करोड़ एपये के सालाना कारोबार के साथ चौथे पायदान पर है, जबकि 1,77,033 करोड़ रुपये के कारोबार के साथ भारतीय स्टेट बैंक पांचवे पायदान पर है।

शीर्ष 10 कंपनियों में टाटा मोटर्स छठे, ओएनजीसी सातवें, टाटा स्टील आठवें, कोल इंडिया नौवें और हिंडाल्को इंडस्ट्रीज 10वें पायदान पर है। पत्रिका ने कहा कि फार्च्यून 500 कंपनियों की कुल बिक्री साल दर साल 23.77 प्रतिशत बढ़ी है।
 
 
 
टिप्पणियाँ