शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 11:42 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
2जी केस में ए राजा, कनिमोझी, शाहिद बलवा समेत 19 लोगों पर आरोप तयअदालत ने मामले में, द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि की पत्नी दयालु अम्माल के खिलाफ भी आरोप तय किएदिल्ली की अदालत ने कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में गुप्ता तथा 4 अन्य को जमानत दीअदालत ने आरोपियों को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानत पर रिहा किया
आत्मघाती हमलावरों ने नाइजीरिया में एयरटेल कार्यालय पर हमला किया
अबुजा, एजेंसी First Published:22-12-12 10:34 PM
Image Loading

आत्मघाती कार हमलावरों ने शनिवार को यहां कानो शहर स्थित भारतीय दूरसंचार कंपनी भारतीय एयरटेल की नाइजीरियाई इकाई के कार्यालय पर हमला बोला जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। हमलावरों ने दक्षिण अफ्रीकी कंपनी एमटीएन के कार्यालय को भी निशाना बनाया।

हमले में बच गए बायो ओशो ने कहा वह साबो गारी के मालाम काल्टो स्क्वेयर स्थित एयरटेल बिल्डिंग में काम कर रहे थे, उसी समय दो आत्मघाती हमलावार दो अलग-अलग गाडियों में सवार होकर कार्यालय परिसर में घुस आये।

ओशो ने बताया कि पहली कार ने टक्कर मारकर कार्यालय परिसर का गेट खोला। उसमें से ड्राइवर उतरकर बाहर निकला और सुरक्षा कर्मियों का मुकाबला करते हुये गोलियां चलाने लगा इस बीच विस्फोटकों से लैस दूसरा आत्मघाती अंदर घुस आया।

विस्फोटक में धमाका हुआ और आग की लपटें तथा धुंआ फैल गया। सेना की संयुक्त कार्य बल ने क्षेत्र को घेर लिया और अग्निश्मन दल कर्मी आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे हैं।

एयरटेल के अधिकारी इस बारे में बोलने के लिये उपलब्ध नहीं थे। नाइजीरिया में मोबाइल फोन सेवा देने वाली एयरटेल तीन बड़ी कंपनियों में से एक है। रिपोर्टो में कहा गया है कि हमलावरों ने एमटीएन के कार्यालय पर भी धावा बोला। एक स्थानीय वेबसाइट के अनुसार हमले में चार लोगों की मौत हो गई। हालांकि, इस बात का तुरंत पता नहीं चल सका कि हमले में कोई स्थानीय नागरिक भी मारा गया।

किसी हताहत के बारे में भी कोई जानकारी नहीं मिल सकी। उल्लेखनीय है कि इस्लामी समूह बोको हाराम जो कि उत्तरी और मध्य नाइजीरिया में गोलीबारी और बमों से हमले के लिये कुख्यात है ने पहले भी कई बार टेलीफोन कंपनियों को निशाना बनाया है। उनका कहना है कि दूरसंचार कंपनियां सुरक्षा सेवाओं के साथ सहयोग करती हैं।

 
 
 
टिप्पणियाँ