शुक्रवार, 28 अगस्त, 2015 | 22:38 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दिल्ली में कई जगह लगा जाम, डीएनडी पर लगी है वाहनों की काफी लंबी कतार।भूमि अधिग्रहण कानून संबंधी अध्‍यादेश फिर से नहीं लाएगी सरकार।मुम्बई पुलिस आयुक्त राकेश मारिया की उपस्थिति में इंद्राणी मुखर्जी, संजीव खन्ना, ड्राइवर श्याम राय और मिखाइल बोरा से संयुक्त रूप से पूछताछ की गई।उत्तर प्रदेश की दलित जमीन पर सियासत की नींव मजबूत करने में जुटी भाजपा।
एचएसबीसी मामले में आरबीआई से फिर शिकायत
लखनऊ, एजेंसी First Published:26-12-2012 09:58:43 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

हांगकांग एंड शंघाई बैंक कॉरपोरेशन (एचएसबीसी) बैंक ने अपने ऊपर लगे स्विस बैंकों में काला धन जमा करने में मदद करने और भारत में हवाला रैकेट चला कर चोरी करने के आरोपों को पूरी तरह गलत बताया है। उधर शिकायतकर्ता ने रिजर्व बैंक से आरोपों की पुन: जांच की मांग की है।

आम आदमी पार्टी (एएपी) के संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा एचएसबीसी बैंक पर लगाए गए आरोपों के आधार पर भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी अमिताभ ठाकुर ने रिजर्व बैंक से इन आरोपों की जांच कर सत्यता पाए जाने पर बैंकिंग रेगुलेशन अधिनियम 1949 की धारा 22(4) के अंतर्गत बैंक का लाइसेंस निरस्त करने का अनुरोध किया था।

रिजर्व बैंक ने एचएसबीसी से 30 दिन के अंदर इन आरोपों पर जवाब देने का आदेश दिया था।

एचएसबीसी की मुख्य नोडल अधिकारी सीमा मेहता ने 20 दिसंबर के अपने पत्र में कहा कि बैंक बहुत गंभीरता से सभी कानूनों का पालन करता है और पिछले साल एक नए वैश्विक लीडरशपि टीम और नयी नीति के बाद से उसने कानूनों के पालन के लिए ठोस कदम उठाए हैं।

लखनऊ निवासी अमिताभ ठाकुर ने बुधवार को कहा कि चूंकि एचएसबीसी के इस पत्र में किसी भी मूल मुद्दे पर स्थिति स्पष्ट नहीं की गई थी, अत: उन्होंने रिजर्व बैंक के गवर्नर को पुन: पत्र भेज कर इन आरोपों की जांच कराने और उचित विधिक कार्यवाही किए जाने की मांग की है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingबारिश ने धोया पहले दिन का खेल, भारत 50/2
भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के पहले दिन शुक्रवार को बारिश के कारण दो सत्र से अधिक का खेल नहीं हो सका जबकि भारत ने पहली पारी में दो विकेट पर 50 रन बनाए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।