मंगलवार, 21 अप्रैल, 2015 | 13:48 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
हमारी सरकार किसी के खिलाफ जाति, धर्म, रंग, नस्ल के आधार पर विभेद की बात का समर्थन नहीं करती, संविधान सभी नागरिकों को समानता का अधिकार देता है: गृह मंत्री राजनाथ सिंह।
ग्रामीण योजनाएं दे सकती हैं ग्रीन एजेंडा को गति
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:04-01-13 05:16 PM
Image Loading

सरकार पर्यावरण अनुकूल एजेंडा को प्रोत्साहन देने के लिए मनरेगा जैसी ग्रामीण विकास की योजनाओं का इस्तेमाल करने पर विचार कर रही है।

समावेशी ग्रामीण विकास के लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी की गई एक रिपोर्ट में सुझाई गई रणनीति के मुताबिक, मंत्रालय के पास एक समर्पित पर्यावरण प्रकोष्ठ होना चाहिए जो ग्रामीण इलाकों में विभिन्न योजनाओं के जरिए पर्यावरण अनुकूल उद्देश्यों को दिशा प्रदान कर सके।

भारत में पर्यावरण अनुकूल तरीके से ग्रामीण विकास शीर्षक से जारी रिपोर्ट संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के सहयोग से तैयार की गई है। इस रिपोर्ट को योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह आहलुवालिया, ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश और पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन द्वारा संयुक्त रूप से जारी किया गया।

रमेश ने कहा कि करीब 75,000 करोड़ रुपए के सालाना बजट के साथ ग्रामीण विकास मंत्रालय की योजनाओं में सतत गरीबी उन्मूलन और प्राकृतिक संसाधनों के प्रभावी इस्तेमाल के लक्ष्य को हासिल करने की जबरदस्त संभावना है।

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingहमें 20 रन और बनाने चाहिये थे: आमरे
दिल्ली डेयरडेविल्स के कोचिंग स्टाफ के सदस्य प्रवीण आमरे ने आईपीएल के मैच में कल की हार के बाद केकेआर के गेंदबाजों को श्रेय देते हुए कहा कि उनकी टीम ने लगभग 20 रन कम बनाए।