गुरुवार, 28 मई, 2015 | 23:37 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    मोदी ने मनमोहन से लिया था एक घंटे इकॉनोमी का ज्ञानः राहुल लोकलुभावन रास्ते की बजाय अधिक कठिन मार्ग चुना :मोदी CBSE 10th रिजल्ट: 94,447 छात्रों को मिला 10 सीजीपीए सोनिया की मौजूदगी में हुई बैठक, पास हुआ मोदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव जेट एयरवेज की टिकटों पर 25 प्रतिशत छूट की पेशकश रायबरेली पहुंची सोनिया गांधी व्यापम घोटाला: अब तक जांच से जुड़े 40 लोगों की मौत त्रिपुरा सरकार ने राज्य में 18 सालों से लगा अफस्पा हटाया गुर्जर आंदोलन: बैंसला बोले, चाहे कुछ हो जाए बिना आरक्षण लिए नहीं लौटेंगे कुछ इस तरह हुई फीफा के 14 अधिकारियों की गिरफ्तारी
वर्ष 2013 में तेजी की चमक बिखेरता रहेगा सोना
मुंबई, एजेंसी First Published:30-12-12 04:55 PM
Image Loading

अगले साल भी सोना तेजी की चमक बिखेरता रहेगा। विश्लेषकों के मुताबिक, अर्थव्यवस्था में तेजी आने के आसार एवं कुछ निश्चित वैश्विक कारकों से सोने की कीमत 33,000 रुपये के स्तर पर पहुंच सकती है।

कोटक कमोडिटी सर्विसेज की विश्लेषक माधवी मेहता ने कहा कि दीर्घकाल में, सोने में तेजी का रुख बने रहने की संभावना है, क्योंकि ज्यादातर देशों के केंद्रीय बैंक सोने की खरीद बढ़ा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ब्राजील और रूस के केंद्रीय बैंकों की योजना अगले साल सोने का भंडार बढ़ाने की है। वर्ष 2013 के लिए हमारा अनुमान है सोना 28,000.33,000 के स्तर पर रहेगा। हालांकि, रुपया में स्थिरता और अमेरिका का राजकोषीय असंतुलन सोने में नरमी ला सकता है।

पिछले सप्ताह, सोना 30,600 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा, जबकि वैश्विक बाजारों में यह 1,658 डॉलर प्रति औंस पर रहा। इसी तरह का विचार व्यक्त करते हुए कामट्रेंडज रिसर्च के निदेशक ज्ञानशेखर त्यागराजन ने कहा कि बाजार लंबे समय से अमेरिका में राजकोषीय असंतुलन दूर करने के लिए प्रस्ताव पारित होने का इंतजार कर रहा है।

उन्होंने कहा कि दीर्घकाल में घरेलू बाजार में सोने की कीमत 33,000 रुपये से 34,000 रुपये के स्तर पर पहुंच सकती है। हालांकि, यदि अमेरिका में प्रस्ताव पारित होने से रह जाता है तो सोने में गिरावट आएगी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingमूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच
भारतीय टीम के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का कार्यकाल खत्म हो चुका है और बीसीसीआई अब एक नए कोच की तलाश में जुटी हुई है। टीम इंडिया का कोच बनना एक बड़ी चुनौती होती है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड