सोमवार, 25 मई, 2015 | 08:42 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    'आप' के सौ दिन, केजरीवाल करेंगे कनाट प्‍लेस में बैठक नरेंद्र मोदी को जान से मारने की धमकी देने वाला गिरफ्तार जानिए आखिर कैसे रोहित के लिए फिर लकी साबित हुआ ईडन गार्डन मोदी सरकार को केजरीवाल से एलर्जी: सिसोदिया  चेन्नई सुपरकिंग्स को हराकर मुंबई इंडियन्स बना आईपीएल चैम्पियन मोदी को मारने की धमकी, पुलिस की नींद उड़ी केजरीवाल ने विधानसभा का आपात सत्र बुलाया मुद्रास्फीति पर जेटली कर रहे हैं बड़बोलापन: कांग्रेस  लू ने ली तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में 153 लोगों की जान  यौन उत्पीड़न मामले में पचौरी को टेरी ने माना दोषी
खाद्य तेल पर आयात शुल्क बढ़ाने की कोई योजना नहीं: थॉमस
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:06-12-12 02:59 PMLast Updated:06-12-12 03:16 PM
Image Loading

खाद्य मंत्री केवी थॉमस ने गुरुवार को कहा कि सरकार की खाद्य तेल पर आयात शुल्क तुरंत बढ़ाने की कोई योजना नहीं है, हालांकि उद्योग ने चिंता जाहिर की है कि वनस्पति तेल के सस्ते आयात से तिलहन किसान प्रभावित हो रहे हैं।

भारत विश्व का सबसे बड़ा खाद्य तेल आयातक है और कच्चे तेल पर कोई आयात शुल्क नहीं लगाता, हालांकि रिफाइंड तेल पर 7.5 फीसद का शुल्क लगाया जाता है।

पिछले सप्ताह उद्योग मंडल साल्वेंट एक्सट्रैक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एसईए) ने वित्त, वाणिज्य और खाद्य मंत्रालयों के सामने अपना पक्ष रखा और रिफाइंड वनस्पति ऑयल पर आयात शुल्क बढ़ाकर 20 फीसद तक करने और कच्चे तेल पर 10 फीसद का शुल्क लगाने की मांग की।

यह पूछने पर कि क्या मंत्रालय ने आयात शुल्क ढांचे में बदलाव की योजना बना रही है, थॉमस ने कहा कि मेरे पास फिलहाल खाद्य तेल पर आयात शुल्क बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड