रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 09:11 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
राज्यों की आर्थिक वृद्धि दर राष्ट्रीय औसत से अधिक
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:27-12-12 10:02 PM
Image Loading

ज्यादातर राज्यों ने 11वीं पंचवर्षीय योजना यानी 2007-12 के दौरान अखिल भारतीय सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर से बेहतर प्रदर्शन किया। उद्योग मंडल एसोचैम के अध्ययन में यह तथ्य सामने आया है।

एसोचैम ने राज्यों के वित्त के आकलन पर आधारित अध्ययन रिपोर्ट वित्त मंत्रालय तथा योजना आयोग को सौंपी है। अध्ययन में कहा गया है कि कई ऐसे राज्य जिन्हें बीमारू श्रेणी में रखा जाता है, वे भी अब आगे निकल रहे हैं।

महाराष्ट्र, गुजरात और हरियाणा जैसे अग्रणी राज्यों ने निरंतर आधार पर 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि दर हासिल की, वहीं अध्ययन में कहा गया है कि पीछे रहने वाले राज्यों बिहार, मध्य प्रदेश तथा राजस्थान के प्रदर्शन में भी सुधार हुआ है।
 
 
 
टिप्पणियाँ