शनिवार, 01 अगस्त, 2015 | 06:58 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    बिना सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 23 रुपये 50 पैसे हुआ सस्ता, पेट्रोल और डीजल के दाम भी घटे लीबिया में आतंकी संगठन IS के चंगुल से 2 भारतीय रिहा, बाकी 2 को छुड़ाने की कोशिश जारी याकूब के जनाजे में शामिल लोगों को त्रिपुरा के गवर्नर ने बताया आतंकी उपभोक्ताओं को रुलाने लगा प्याज, खुदरा भाव 50 रुपये पहुंचा  कांग्रेस MLA उस्मान मजीद बोले, मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी टाइगर मेमन से कई बार की मुलाकात FTII छात्रों को राहुल गांधी का समर्थन, राहुल ने कहा, अपनी इच्छा छात्रों पर ना थोपे सरकार राज्यसभा में विपक्षी दलों ने किया हंगामा, कार्यवाही हुई बाधित लोकसभा में विपक्ष ने लगाए सरकार के खिलाफ नारे, भाजपा सांसद भी नहीं रहे पीछे हाईकोर्ट के आदेश पर मानसून सत्र में बैठेंगे ये चार विधायक अमेरिकी लड़की के साथ छेड़खानी करने वाला टैक्सी चालक गिरफ्तार
रेटिंग घटाने की चेतावनी से चिंतित नहीं सरकार: वित्त मंत्रालय
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:08-01-2013 05:16:23 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

वित्त मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि वह भारत की वित्तीय साख घटाने की फिच जैसी वैश्विक क्रेडिट रेटिंग एजेंसियों की चेतावनी से चिंतित नहीं है। मंत्रालय ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था का सही रास्ते पर है तथा राजकोषीय घाटा 2012-13 में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 5.3 प्रतिशत तक सीमित रहेगा।

फिच जैसी एजेंसियों की चेतावनी के बारे में पूछे जाने पर आर्थिक मामलों के विभाग (डीईए) के सचिव अरविंद मायाराम ने कहा कि हम चिंतित नहीं हैं। हम कहते रहे हैं कि हम सही रास्ते पर हैं। लेकिन लोग हम पर अभी भी शंका कर रहे हैं और यह पूछते रहते हैं कि क्या हम राजकोषीय घाटे का लक्ष्य हासिल कर लेंगे।

हम राजकोषीय स्थिति मजबूत बनाने के लिए तय नक्शे पर हैं। उन्होंने कहा कि राजकोषीय घाटे को जीडीपी के 5.3 प्रतिशत तक सीमित रखने के लिए कई कदम उठाये हैं और यह प्रक्रिया आने वाले साल में भी जारी रहेगी।
बढ़ते व्यय तथा राजस्व वसूली में अपेक्षाकत कम वृद्धि को देखते हुए वित्त मंत्रालय ने पहले ही राजकोषीय घाटे का अनुमान बजट में प्रस्तावित 5.1 प्रतिशत से बढा कर  5.3 प्रतिशत कर दिया है। टोक्यो में हाल में कांफ्रेन्स काल में फिच ने भारत की घटती आर्थिक वृद्धि, उच्च मुद्रास्फीति तथा राजकोषीय घाटे में वृद्धि का हवाला देते हुए देश की रेटिंग घटाए जाने को लेकर चेतावनी दी थी।

एजेंसी ने कहा था कि अगले 12 से 24 महीने में भारत की सोवरेन रेटिंग घटाए जाने की संभावना 50 प्रतिशत से अधिक है। एक और वैश्विक रेटिंग एजेंसी स्टैंडर्ड एंड पूअर्स ने भी अगले दो साल में तीन में एक स्थिति में भारत की रेटिंग घटाए जाने की संभावना जताई थी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingटीम इंडिया के कोच बनने के इच्छुक स्टुअर्ट लॉ
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड आगामी दक्षिण अफ्रीकी दौरे से पहले टीम इंडिया के नये कोच को चुनने को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है और इसी बीच पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी तथा ऑस्ट्रेलिया-ए के सहायक कोच स्टुअर्ट लॉ ने इस जिम्मेदारी भरे पद को संभालने के लिए अपनी ओर से इच्छा जाहिर की है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड