शनिवार, 23 मई, 2015 | 03:42 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    9 अभिनेत्रियां जिनकी मौत आज भी है रहस्य कोयला घोटाला: जिंदल, राव, कोड़ा को जमानत एक साल में मोदी सरकार ने दुनिया भर में बढ़ाया भारत का मान: जेटली प्रकृति एवं पर्यावरण पर ग्रीष्मकालीन शिविर आईपीएल सट्टेबाजी केस में ईडी ने मारे छापे मतदाताओं के लिए आधार की अनिवार्यता पर माकपा को आपत्ति उपराज्यपाल जंग को मिलते हैं प्रधानमंत्री ऑफिस से निर्देश: केजरीवाल पीएफ का पैसा निकालने जा रहे हैं, तो पहले जरूर पढ़ें ये खबर आतंकवाद पर रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने दिखाया सख्त रुख आईपीएल: मैच ही नहीं, कप्तानी का भी मुकाबला
नीतिगत दरों में कटौती की उम्मीद नहीं: बार्कलेज
मुंबई, एजेंसी First Published:06-12-12 04:43 PM
Image Loading

ब्रिटेन के बैंक बार्कलेज का मानना है कि भारतीय रिजर्व बैंक 18 दिसंबर को होने वाली मध्य तिमाही समीक्षा में नीतिगत दरों को अपरिवर्तित रख सकता है। ब्याज दरों में कटौती जनवरी में ही संभव है।

बार्कलेज ने एक नोट में कहा कि हमारा मानना है कि रिजर्व बैंक सीआरआर कटौती और खुले बाजार की क्रियाओं के जरिए तरलता से जुड़ी चिंताओं का निदान करता रहेगा।

रेपो दर जिस दर पर रिजर्व बैंक वाणिज्यिक बैंकों को अल्पकालिक उधार देता है, इसमें कटौती जनवरी के अंत तक ही संभव है। पिछले तीन महीने से अधिक समय में रिजर्व बैंक ने नकद आरक्षी अनुपात, वह राशि जिसे बैंकों को नकदी के रूप में रिजर्व बैंक के पास रखना होता है, को 0.50 प्रतिशत घटाकर 8 प्रतिशत किया है। लेकिन इससे ब्याज दरों में तुरंत कोई कमी नहीं आयी है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि मौजूदा तरलता स्थिति को देखते हुए हमे चालू वित्त वर्ष के अगामी तीन महीनों में खुले बाजार की क्रियाओं पर जोर और सीआआर कटौती की उम्मीद है। अगामी तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर में भारी गिरावट से रेपो दर कटौती पर बल पड़ सकता है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
Image Loadingआरसीबी को हराकर चेन्नई शान से फाइनल में
आशीष नेहरा की अगुआई में गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज माइक हसी के जुझारू अर्धशतक से चेन्नई सुपकिंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के दूसरे क्वालीफायर में आज यहां रायल चैलेंजर्स बेंगलूर को रोमांचक मुकाबले में तीन विकेट से हराकर छठी बार फाइनल में जगह बनाई।