शुक्रवार, 29 मई, 2015 | 05:36 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    मोदी ने मनमोहन से लिया था एक घंटे इकॉनोमी का ज्ञानः राहुल लोकलुभावन रास्ते की बजाय अधिक कठिन मार्ग चुना :मोदी CBSE 10th रिजल्ट: 94,447 छात्रों को मिला 10 सीजीपीए सोनिया की मौजूदगी में हुई बैठक, पास हुआ मोदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव जेट एयरवेज की टिकटों पर 25 प्रतिशत छूट की पेशकश रायबरेली पहुंची सोनिया गांधी व्यापम घोटाला: अब तक जांच से जुड़े 40 लोगों की मौत त्रिपुरा सरकार ने राज्य में 18 सालों से लगा अफस्पा हटाया गुर्जर आंदोलन: बैंसला बोले, चाहे कुछ हो जाए बिना आरक्षण लिए नहीं लौटेंगे कुछ इस तरह हुई फीफा के 14 अधिकारियों की गिरफ्तारी
मध्यमवर्ग को मिली कर कटौती आगे बढ़े: ओबामा
वाशिंगटन, एजेंसी First Published:08-12-12 05:22 PM
Image Loading

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शनिवार को अमेरिकी कांग्रेस (संसद) से अमेरिकी मध्यमवर्गीय परिवारों को मिली कर छूट को आगे बढ़ाने को मंजूरी देने का आग्रह किया।

कर दरों में कटौती की यह छूट इस महीने समाप्त हो रही है। उन्होंने रिपब्लिक पार्टी के सांसदों से भी कहा कि वह अमेरिका के धनी नागरिकों को ऊंची दर पर कर भुगतान करने के लिए कहें।

राष्ट्र के नाम अपने साप्ताहिक संबोधन में ओबामा ने कहा कि समय निकलता जा रहा है। मध्यवर्ग को मिली कर कटौती की समय-सीमा इस साल अंत में समाप्त हो रही है।

ओबामा ने कहा दो बातें हैं जो हो सकती है। पहला, कांग्रेस कुछ नहीं करती है तो अमेरिका का हर परिवार देखेगा कि एक जनवरी को उनकी आयकर देनदारी अपने आप ही बढ़ जाएगी। चार सदस्यों वाले आम मध्यमवर्गीय परिवार की कर देनदारी में अपने आप 2,200 डॉलर तक बढ़ जाएगी। यह परिवारों के लिये ठीक नहीं होगा, व्यवसाय पर भी इसका बुरा असर होगा और इससे हमारी पूरी अर्थव्यवस्था को नुकसान होगा।

ओबामा ने कहा कि कांग्रेस यानी अमेरिकी संसद यदि इस तरह का कानून पारित कर देती है तो इन सब प्रभावों से बचा जा सकता है। इस कानून में प्रत्येक व्यक्ति की ढाई लाख डॉलर तक की आय पर कर वृद्धि लागू नहीं होगी।

राष्ट्रपति ने कहा यदि ऐसा होता है तो 98 प्रतिशत अमेरिकियों और 97 प्रतिशत छोटे उद्यमियों को काफी राहत मिलेगी। यहां तक कि धनी अमेरिकियों को भी उनकी पहली ढाई लाख डॉलर तक की आय पर कर कटौती का लाभ मिलेगा। सभी परिवारों को कुछ शांति मिलेगी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingमूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच
भारतीय टीम के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का कार्यकाल खत्म हो चुका है और बीसीसीआई अब एक नए कोच की तलाश में जुटी हुई है। टीम इंडिया का कोच बनना एक बड़ी चुनौती होती है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड