गुरुवार, 29 जनवरी, 2015 | 15:49 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पटना विश्वविद्यालय के सिनेट की बैठक के दौरान विरोध कर रहे छात्रों पर लाठी चार्ज, छपरा संघ के चुनाव की मांग को लेकर विरोधमुरादाबाद: वकीलों ने दिया सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन। आज का आंदोलन समाप्त। कल रेल रोकेंगे। वकीलों की सीओ से नोंकझोंक भी हुई।लोकायुक्त की रिपोर्ट के बाद यूपी के दो विधायक बर्खास्तसंभल के मोहल्ला ठेर में रूम हीटर से दम घुटने की वजह से एक व्यापारी की मौत हो गई। कमरे में व्यापारी के साथ सो रही उसकी पत्नी व एक साल के मासूम की हालत भी गंभीर।अमरोहा के मेहंदीपुर गांव में नकली दूध बनाने की फैक्टी पकड़ी. पचास लीटर दूध व सामान बरामद. खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की कार्रवाई.बरेली के फतेहगंज पश्चिमी कस्बे में प्रॉपर्टी डीलर के घर लाखों का डाकाआगरा : हाईकोर्ट बेंच को लेकर वकीलों में आपसी टकराव, संघर्ष समिति और ग्रेटर बार के पदाधिकारी भिड़े, बड़ी संख्या में फोर्स तैनात, पुलिस को फटकारनी पड़ीं लाठियांरामपुर के लालपुर में ट्रैक्टर ने बालक को रौंदा, मौत। हादसे के बाद हंगामा।
वोडाफोन ने पेश किया सुरक्षा समाधान
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:28-11-12 05:38 PM
Image Loading

वोडाफोन इंडिया ने अपने कार्पोरेट ग्राहकों के लिए बुधवार को एक नया समाधान सिक्योर डिवाइस मैनेजर पेश किया। इसकी मदद से कंपनियां कर्मचारियों के मोबाइल हैंडसेट तथा टैबलेट के डेटा को सुरक्षित कर सकेंगी।

वोडाफोन भारत में यह सेवा पेश करने वाली पहली दूरसंचार सेवा प्रदाता है। इसकी ब्रितानी पैतृक कंपनी ब्रिटेन तथा जर्मनी में इस सेवा की पेशकश करती है जहां 18,000 से अधिक उपयोक्ता हैं।

वोडाफोन इंडिया के निदेशक (व्यापार सेवा) नवीन चोपड़ा ने वीडियो कांफ्रेंस में संवाददाताओं को बताया कि स्मार्टफोन तथा टैबलेट पर कंपनियों के डेटा का इस्तेमाल करने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में इन डिवाइस को सुरक्षित करना बहुत महत्वपूर्ण हो गया है।

कंपनी इस सेवा के लिए प्रति डिवाइस 175 रुपये प्रति महीने शुरुआती शुल्क लेगी। इसमें डिवाइस यानी उपकरण गुम जाने पर सूचना को सुरक्षित किया जा सकेगा। एक अनुमान के अनुसार कंपनियों अपने आईटी बजट का 2-5 प्रतिशत हिस्सा डिवाइसों की सुरक्षा पर खर्च करती हैं।

 

 

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड