शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 13:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    सर्जरी के बाद हेमामालिनी की हालत ठीक, ईशा देओल मिलने पहुंचीं, जल्द ही पहुंचेंगे धर्मेंद्र भी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान झारखंड: सीएम ने राज्य के सबसे लंबे पुल की आधारशिला रखी यूपी के रायबरेली में सड़क हादसा, 9 लोगों की मौत सड़क हादसे में हेमा घायल, देखिए घटना के तुरंत बाद की दिल दहला देने वाली तस्वीरें बिहार में किया था मर्डर, दिल्ली में चला रहा था ढाबा, अरेस्ट यूपी: कुत्ते, बकरे की चोरी के मामले में मांग रहे राज्यपाल से मदद! लड़की पर लड़का भगाने का आरोप, मामला हुआ दर्ज, जांच जारी
पंजीकृत एफआईआई की संख्या घटी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:23-12-12 04:31 PM
Image Loading

पांच साल में पहली बार देश में पंजीकृत विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) की संख्या घटी है। इस साल पंजीकृत एफआईआई की संख्या घटकर 1,755 रह गई है, हालांकि इस दौरान उनके निवेश में उल्लेखनीय इजाफा हुआ है।

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार 21 दिसंबर तक पंजीकृत एफआईआई की संख्या 1,755 थी, जो 2011 के अंत तक 1,767 थी। हालांकि इस अवधि में एफआईआई उप खातों की संख्या बढ़कर 6,350 पर पहुंच गई है, जो 2011 के अंत तक 6,278 थी।

हालांकि, निवेश के मोर्चे पर एफआईआई का प्रदर्शन अच्छा रहा है। इस साल एफआईआई ने अभी तक शेयर बाजारों में 23.5 अरब डॉलर का निवेश किया है, जो 1992 में उनके भारतीय पूंजी बाजार में प्रवेश के बाद दूसरा सबसे ऊंचा आंकड़ा है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें