शुक्रवार, 19 दिसम्बर, 2014 | 19:05 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
गुवाहटी से आ रही अवध आसाम ट्रेन में एनसीसी की लड़कियों से छेड़छाड़ में एनसीसी का ग्रुप कैप्टन और उसका साथी गिरफ्तार। सभी लड़कियां चंदौसी की रहने वाली हैं और शिलांग में आयोजित कैंप में गई थी।ऊंचाहार एक्सप्रेस में दो भाइयों से लूट, चाकू मारावित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में पेश किया जीएसटी बिलअरुण जेटली ने कहा, जीएसटी से नहीं होगा किसी राज्य का नुकसानजीएसटी बिल संसद में पेश किया गयाबीजेपी की शिकायत पर हेमंत शोरेन, बसंत शोरेन, और सीएम के बॉडीगार्ड पर एफआईआर दर्ज
रोजगार देने में गुजरात और हरियाणा अव्वल
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:28-11-12 05:07 PM
Image Loading

पूरे देश में सेवा क्षेत्र शहरी इलाकों में रोजगार उपलब्ध कराने वाला सबसे बड़ा क्षेत्र है, जबकि हरियाणा और गुजरात औद्योगिक क्षेत्र में लोगों को रोजगार देने में अव्वल हैं।

उद्योग संगठन एसोचैम ने अपने एक अध्ययन के आधार पर यह दावा करते हुए कहा है कि राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण कार्यालय के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार उद्योग में राष्ट्रीय स्तर पर रोजगार का औसत प्रति एक हजार लोगों में 242 है, जबकि हरियाणा में यह संख्या 319 और गुजरात में 306 है।

अध्ययन के मुताबिक शहरी क्षेत्रों में उद्योग में रोजगार प्रदान करने के मामले में हरियाणा और गुजरात अव्वल राज्य हैं। आधिकारिक आंकड़ों के हवाले से कहा गया है कि ये दोनों राज्य सेवा क्षेत्र की तुलना में औद्योगिक क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने में अग्रणी है।

राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण के हाल के आंकड़ों के अनुसार सेवा क्षेत्र में रोजगार का राष्ट्रीय औसत प्रति हजार लोगों में 683 है, जबकि गुजरात में यह आंकडा 641 और हरियाणा में 627 है। इसमें कहा गया है कि औद्योगिक क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराने के मामले में बिहार सबसे पिछडा राज्य है।

प्रति हजार लोगों में से बिहार में इस क्षेत्र में मात्र 121 लोगों को ही रोजगार मिलता है, जबकि असम में यह आंकड़ा 137 और झारखंड में यह 160 है। राजस्थान में इस क्षेत्र में प्रति हजार में से मत्र 186 लोगों को रोजगार मिला हुआ है।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड