बुधवार, 22 अक्टूबर, 2014 | 05:34 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
एयरइंडिया को नुकसान: लोकलेखा समिति ने मांगे सुझाव
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:22-02-12 08:01 PMLast Updated:22-02-12 10:51 PM
Image Loading

लोकलेखा समिति ने राष्ट्रीय विमानन कंपनी को हो रहे भारी घाटे पर बुधवार को यूनियनों तथा एयर इंडिया के एसोसिएशनों के साथ विचार विमर्श किया। समिति ने इससे निपटने के लिए सुझाव मांगे हैं।

समिति के अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता में हुई आज की बैठक में एयर इंडिया की यूनियनों ने कहा कि मौजूदा खराब वित्तीय हालत के लिए पूर्ववर्ती एयर इंडिया व इंडियन एयरलाइंस का विलय ही दोषी है। उन्होंने सुझाव दिया कि एक होल्डिंग कंपनी बनाई जाये जिसके अधीन एयर इंडिया व इंडियन एयरलाइंस को अलग अलग कंपनी बनाया जा सके। यूनियनों ने कई और सुझाव भी दिए।

हालांकि उनके सभी सुझावों से समिति सदस्य सहमति नहीं थे। समिति के सदस्यों ने कंपनी में बार बार हो रही हड़ताल के बारे में भी यूनियन प्रतिनिधियों से सवाल किए। इस बैठक से पहले कांग्रेस सांसद के.एस. राव ने जोशी से शिकायत की कि सदस्यों को बैठक के एजेंडे संबंधी पत्र समय पर नहीं मिले। जोशी ने इस मामले पर विचार करने का वादा किया।
 
 
 
टिप्पणियाँ