class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जदयू के भोज में महागठबंधन के नेताओं का जमावड़ा

जदयू के भोज में महागठबंधन के नेताओं का जमावड़ा

स्थान: न्यू पटना क्लब। आयोजन जदयू की ओर से चूड़ा-दही भोज। हर साल की तरह इस बार भी जदयू के प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह की ओर से आयोजन था, लेकिन बीते वर्षों की तरह इस बार भोज में आगंतुकों की संख्या कुछ अधिक दिखी। पार्टी नेताओं की मानें तो लगभग 12 हजार लोग भोज में शामिल हुए।


भीड़ का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि आयोजन स्थल पर सभी एक-दूसरे से चिपके नजर आ रहे थे। आम से लेकर खास तक, सबों को भोज स्थल तक जाने में मशक्कत करनी पड़ी। मुख्य प्रवेश द्वार से भोज स्थल तक आने में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी सात मिनट का समय लगा, जबकि दूरी मात्र एक मिनट की थी।

भीड़ को देख सीएम भी कह उठे कि भीड़ कुछ अधिक ही है। सीएम की इस प्रतिक्रिया पर ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि सब आपको देखने आए हैं। आप चले जाइएगा तो भीड़ छंट जाएगी। इस पर सीएम ने जदयू अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण से पूछा कि चले जाएं तो प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि जब पूर्व प्रदेश अध्यक्ष (बिजेंद्र) ने कह दिया तो मैं क्या कहूं। इस हल्की-फुल्की बातचीत के बीच सीएम समूह में बैठकर चूड़ा-दही खाए और 40 मिनट बाद अपने आवास के लिए रवाना हुए।


महागठबंधन की दिखी झलक : बिहार में सरकार महागठबंधन की चल रही है, तो जदयू के भोज में इसकी बानगी भी दिखी। जदयू के अलावा राजद व कांग्रेस के छोटे-बड़े नेता इस भोज में साथ बैठकर चूड़ा-दही खाते नजर आए। वरिष्ठ नेताओं में सबसे पहले जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव पहुंचे। इनके जाने पर 12 बजे मुख्यमंत्री आए। सीएम की मौजूदगी में ही कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी भी पहुंचे। सीएम के जाने के बाद लगभग 12.50 बजे लालू प्रसाद पहुंचे।

गन्ना मंत्री को देना पड़ा परिचय : जब तक सीएम बैठे रहे, हर कोई उनसे मिलने को बेताब दिखा। सुरक्षाकर्मियों की दबिश में गिने-चुने लोग सीएम के आसपास पहुंच सके। इसी क्रम में गन्ना उद्योग मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद को सुरक्षाकर्मियों ने रोका तो उन्हें कहना पड़ा कि मंत्री को जाना है या नहीं। परिचय देने के बाद ही उन्हें जाने दिया गया।

भोज में आए : विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, विधान परिषद सभापति अवधेश नारायण सिंह, पूर्व विस अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी, जल संसाधन मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह के अलावा वरिष्ठ नेताओं में आरसीपी सिंह, पवन कुमार वर्मा, गुलाम रसूल बलियावी, कहकशां परवीन, अनिल सहनी, रामलषण राम रमण, रमई राम, श्याम रजक, संजय सिंह, रंजू गीता, अंजुम आरा, डॉ. मधुरेंदु पांडेय, डॉ. सुनील कुमार सिंह।

व्यवस्था संभाली : विधान पार्षद प्रो रणवीर नंदन, जदयू महासचिव रवींद्र सिंह, डॉ. नवीन कुमार आर्य, छोटू सिंह, नंद किशोर कुशवाहा, राजीव रंजन प्रसाद, ओमप्रकाश सिंह सेतू, बबलू, लोक प्रकाश सिंह, मुकेश कुमार सिंह ने भोज में व्यवस्था संभाल रखी थी। भोज के लिए 20-30 क्विंटल चूड़ा-दही, 15 क्विंटल तिलकुट, पांच क्विंटल भूरा, दो क्विंटल चीनी, 12 क्विटंल आलू, छह क्विंटल गोभी, एक क्विंटल प्याज, डेढ़ क्विंटल प्याज मंगाया गया था।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:nitish lalu celebrate makar sankranti