Image Loading nitish govt has been anti dalit - Hindustan
मंगलवार, 24 जनवरी, 2017 | 10:33 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • आज के हिन्दुस्तान में पढ़ें एस श्रीनिवासन का विशेष लेख: तमिलनाडु में मुक्ति की...
  • मौसम अलर्ट: दिल्ली-एनसीआर, लखनऊ, रांची और देहरादून में हल्के बादल छाए रहने का...
  • आज के हिन्दुस्तान का ई-पेपर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आज का भविष्यफल: कर्क राशि वालों को भाइयों का सहयोग मिलेगा, अन्य राशियों का हाल...
  • हेल्थ टिप्स: हर दिन 10 मिनट निकालें अपने लिए और ऐसे हो जाएं दुरुस्त
  • GOOD MORNING: चुनाव आयोग ने सशर्त बजट पेश करने की मंजूरी दी, माल्या मामले में IDBI के पूर्व...

दलितों का बिहार में रहना हो गया है दूभर: सुशील मोदी

मुजफ्फरपुर। मुख्य संवाददाता First Published:19-10-2016 08:12:59 PMLast Updated:19-10-2016 08:12:59 PM

केन्द्रीय विद्यालय में छात्र की पिटाई मामले में पूर्व उप मुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील मोदी नीतीश सरकार पर जमकर बरसे। बुधवार को पीड़ित छात्र से मिलने के बाद पार्टी कार्यालय में प्रेस कांफ्रेस को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि बिहार में दलितों को रहना दूभर हो गया है। विधायक बलात्कार करते हैं और दबंग गरीबों के बच्चों को पढ़ने भी नहीं दे रहे हैं। बिहार की जनता दोराहे पर खड़ी है। कहां जाएं,क्या करें,पता नहीं चल रहा है।

घटना के लिए केन्द्रीय विद्यालय प्रशासन को भी दोषी बताते हुए मोदी ने कहा कि मामला प्रकाश में आते ही केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने गंभीरता दिखाई और कार्रवाई शुरू कर दी। प्राचार्य निलंबित किए जा चुके हैं और तेरह शिक्षकों का तबादला कर दिया गया है। मगर एक दलित छात्र की पिटाई पर बिहार सरकार अबतक चुप है। उस छात्र की मेडिकल जांच तक नहीं कराई गई। दलित उत्पीड़न के तहत मुआवजा तक नहीं मिला है।

उन्होंने कहा कि उस छात्र को दलित और उसमें भी मेधावी होने का खामियाजा भुगतना पड़ा है। छात्र और उसका पूरा परिवार सहमा हुआ है। पिटाई के समय ही मुंह खोलने पर हत्या की धमकी दी गई। इसके बावजूद जिला के प्रशासनिक अधिकारी न तो उसके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई और न ही हाल जानने की कोशिश की। ऐसे हालात पूरे राज्य में बने हुए हैं।

मोदी ने कहा कि उनकी पार्टी उस बच्चे की आगे की पढ़ाई का पूरा खर्च वहन करेगी। इलाज कराने के लिए एम्स भेजेगी। उस छात्र के लिए अब उस स्कूल में जाना संभव नहीं लग रहा है। केन्द्रीय विद्यालय प्रशासन ने उन्हें आश्वस्त किया है कि यह बच्चा देश के किसी भी केन्द्रीय विद्यालय में पढ़ना चाहे तो पढ़ सकता है। अगर उसके अभिभावक आवासीय केन्द्रीय विद्यालय में रखना चाहेंगे तो उसकी व्यवस्था भी भाजपा करेगी। इस मौके पर भाजपा के जिलाध्यक्ष रामसूरत राय,विधायक केदार प्रसाद,पूर्व विधायक वीणा देवी,सुरेश चंचल सहित पार्टी के कई नेता मौजूद थे।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: nitish govt has been anti dalit
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
Rupees
क्रिकेट स्कोरबोर्ड