class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एड्स पीड़ितों के साथ नहीं करें भेदभाव:आरडीडी

गुरूवार को विश्व एड्स दिवस पर जिलेभर में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। रेड रिबन लगाकर लोगों को जहां एड्स से बचने की सलाह दी गयी, वहीं स्कूली बच्चों ने जागरूकता रैली निकालकर लोगों को जागरूक किया।

रेलवे स्टेशन पर वाल पेंटिंग बनाकर जेएनवी के बच्चों ने रेल यात्रियों को हमेशा एड्स के प्रति सजग रहने का संदेश दिया। हैण्डवील बांटकर यात्रियों से एड्स पीड़ितों के साथ भेदभाव नही करने व उन्हें मुख्यधारा से जुड़ने के लिए प्रेरित करने को कहा। अररिया पीएचसी सभागार में ‘एचआईवी संक्रमित संग भेदभाव मिटाना है विषय पर जिला स्तरीय सेमिनार का आयोजन हुआ।

स्वास्थ्य विभाग के क्षेत्रिय उपनिदेशक डा. जगदीश प्रसाद ने दीप जलाकर सेमिनार का उद्घाटन किया। मौके पर क्षेत्रिय उपनिदेशक ने कहा कि एड्स लाईलाज बिमारी नही है। जानकारी ही इसका बचाव है। एचआईवी वायरस शरीर के रोग प्रतिरोधी क्षमता कम कर देता, इससे शरीर में तरह-तरह की बिमारियां घर करने लगती है। आईये विश्व एड्स दिवस पर हम संकल्प लें, खुद सुरक्षित रहेंगे और दूसरों को एड्स से बचने का सलाह देंगे। सिविल सर्जन ने कहा कि एड्स पीड़ितों के साथ भेदभाव नही करें, चूंकि हीन भावना से उनका मनोबल छोटा होता है।

हमेशा उनका मनोबल ऊंचा बढ़ाने का प्रयास करें। क्षेत्रिय कार्यक्रम प्रबंधक नजमुल हौदा ने कहा कि एड्स से बचाव में जागरूकता अहम भूमिका निभाती है। एसएमओ डा. आरएन सिंह, डीपीएम रेहान अशरफ, डीपीएम एड्स अखिलेश्वर सिंह आदि ने सेमिनार को संबोधित किया। सेमिनार में बीएचएम केशव कुमार झा, नाजनीन खातुन, प्रेरणा रानी वर्मा, विनोदानंद झा, पवन कुमार बजरंग आदि स्वास्थ्यकर्मी मौजूद थे। सफल बनाने में राजेश रंजन, मुरलीधर साह, सोनी कुमारी, शिवकुमार सहगल ओआरडब्लू एचएलएफपीपीटी रौशन दूबे, विजय कुमार, संजय कुमार भारती आदि सक्रिय दिखे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:araria rdd said ti ads marij