class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटकवेल के पास चार घंटे सूखा रहा कैनाल, कई इलाकों में जलसंकट

इंटकवेल के पास चार घंटे सूखा रहा कैनाल, कई इलाकों में जलसंकट

बरारी वाटर वर्क्स में पानी की किल्लत के कारण शनिवार को शहर की बड़ी आबादी को दोपहर बाद जलसंकट का सामना करना पड़ा। तिलकामांझी से लेकर आदमपुर, खलीफाबाग, पटल बाबू रोड सहित दर्जनों इलाकों में यह समस्या बनी रही। इंटकवेल के सामने का कैनाल (चैनल) चार घंटे तक सूखे रहने के कारण यह समस्या आई।

दरअसल, गंगा से इंटकवेल तक पानी पहुंचाने के लिए दो पंप लगे हैं और बरारी वाटर वर्क्स में दोनों इंटकवेल को मिलाकर सात पंप हैं, जिनमें तीन चल रहे थे। दोपहर करीब एक बजे गंगा से इंटकवेल तक पानी पहुंचाने वाला एक पंप खराब हो गया और सिर्फ एक पंप के सहारे इंटकवेल तक पानी पहुंचाने के कारण इंटकवेल के सामने का चैनल पूरी तरह सूख गया। इसके बाद इंटकवेल में एक पंप को छोड़कर सारे पंप बंद कर दिए गए।

इंटकवेल पर काम कर रहे कर्मियों ने बताया कि चैनल में पर्याप्त पानी उपलब्ध नहीं हो रहा था, इसलिए एक ही पंप चलाया गया। जब तक पानी की उपलब्धता पूरी नहीं होगी, तब तक दूसरा पंप चालू नहीं किया जा सकता है। हालांकि, पैन इंडिया के अधिकारी का कहना था कि काम के दौरान इस तरह की परेशानी आते रहती है। हमारे पास दूसरे विकल्प भी होते हैं, जिसके जरिए पानी इंटकवेल तक पहुंचाया जाता है।

वारसलीगंज में आज भी आ रहा बदबूदार पानी

माणिक सरकार लेन के दक्षिणी हिस्से से आकाशवाणी तक, दीपनगर से खलीफाबाग, चुनिहारी टोला, बूढ़ानाथ मंदिर इलाके में पानी की समस्या लगातार बनी हुई है। वारसलीगंज से लेकर बढ़ई टोला के घरों में आज भी बदबूदार पानी पहुंच रहा है। लोगों ने कई बार शिकायत की, लेकिन समाधान अब तक नहीं हुआ।

दावे पर अमल करे तो संकट होगा ही नहीं

बरारी वाटर वर्क्स में हर दिन नई समस्या सामने आ जाती है। नतीजा शहर की बड़ी आबादी को हर दिन जलसंकट से गुजरना पड़ता है। एजेंसी दावा तो हर दिन करती है कि आगे से इस तरह की परेशानी नहीं होगी, लेकिन यह दावा भी कोरा ही साबित हो रहा है। इससे गर्मी के दिनों को लेकर अभी से लोग चिंतित हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:again water crisis in bhagalpur