class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केंद्र ने सतर्कता और निगरानी समिति का बदल गया नाम, जानिए क्या है अब?

केंद्र ने सतर्कता और निगरानी समिति का बदल गया नाम, जानिए क्या है अब?

केंद्रीय योजनाओं के लिए जिलास्तर पर बनी सतर्कता और निगरानी समिति का नाम बदल दिया गया है। सरकार ने हाल ही में इस समिति का नाम बदला है। केंद्रीय योजनाओं के लिए जिलास्तर पर बनी सतर्कता और निगरानी समिति का नाम बदल दिया गया है। भारत सरकार ने हाल ही में इस समिति का नाम बदला है। अब दिशा के नाम से समिति जानी जाएगी। भागलपुर जिले में दिशा की पहली बैठक 24 दिसंबर को आहूत की गई है।

दिशा की बैठक में केंद्र की सभी योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की जाएगी। नए नाम के साथ कई नई योजनाओं का नाम भी दिशा में जोड़ा गया है। इसकी निगरानी सांसद की अध्यक्षता वाली कमेटी को करना है। दिशा की बैठक में सभी विधायक, मेयर, नगर पंचायत अध्यक्ष, जिला परिषद अध्यक्ष आदि भाग लेंगे। हर तीन माह पर दिशा की बैठक होगी। केंद्र की 28 योजनाओं की निगरानी दिशा के जिम्मे रहेगी।

अब दिशा को स्मार्ट सिटी, डिजिटल इंडिया जैसी केंद्रीय योजनाओं की निगरानी का अधिकार दिया गया है। साथ ही दिशा को पावरफुल बनाया गया है। योजनाओं में गड़बड़ी की शिकायत को दिशा गंभीरता से लेगी। शिकायत की जांच के साथ-साथ 30 दिन के अंदर डीएम को कार्रवाई करनी होगी।

इन योजनाओं की निगरानी करेगी दिशा मनरेगा, दीनदयाल अंत्योदय योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण, डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्ड आधुनिकीकरण कार्यक्रम, स्मार्ट सिटी मिशन, जलमार्ग विकास प्रोजेक्ट, डिजिटल इंडिया मो. शहादत हुसैन, जिला पंचायतीराज पदाधिकारी सह विकास शाखा प्रभारी ने बताया कि केंद्रीय योजनाओं की जिलास्तरीय समिति का नया नाम दिशा दिया गया है। दिशा में नई योजनाओं को भी जोड़ा गया है। दिशा की पहली बैठक 24 दिसंबर को बुलाई गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vigilance and Monitoring Committee will known as DISHA