class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागलपुर के टॉप-5 क्रिमिनल पर एसटीएफ कसेगी लगाम, जानिए किनसे है खतरा

भागलपुर के टॉप-5 क्रिमिनल पर एसटीएफ कसेगी लगाम, जानिए किनसे है खतरा

कुख्यात छोटू यादव की गिरफ्तारी के बाद पुलिस मुख्यालय ने भागलपुर के टॉप फाइव अपराधियों की एसटीएफ को सूची सौंपी है। इसमें कुख्यात सत्तन यादव, टिंकू मियां, इम्तियाज, राणा और नवगछिया के मंटा सिंह के नाम शामिल हैं। इन सभी फरार अपराधियों को पकड़ने के लिए एसटीएफ भागलपुर व आसपास के जिले में कैंप कर रही है। छोटू यादव की गिरफ्तारी के लिए भी एसटीएफ को एक महीने से अलर्ट कर दिया गया था।

पांचों का ऐसा रहा है आपराधिक इतिहास

- नाथनगर का कुख्यात सत्तन यादव 10 साल से फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए 25 हजार का इनाम भी घोषित है। सत्तन यादव ने राजद के तत्कालीन जिलाध्यक्ष लक्ष्मीकांत यादव और उनके भाई अधिवक्ता मनोहर यादव की हत्या कर दी थी। सत्तन के खिलाफ दो दर्जन आपराधिक मामले दर्ज हैं।

- नवगछिया का मंकेश्वर सिंह उर्फ मंटा सिंह ने विनोद यादव की हत्या में मुख्य भूमिका निभाई थी। छह साल पहले मंटा सिंह ने सुपारी देकर नवगछिया के ट्रांसपोर्टर विनय कुमार उर्फ पुरीलाल झा की हत्या करवा दी थी। शूटर विलरिया राय की गिरफ्तारी के बाद खुलासा हुआ था, लेकिन मंटा सिंह बचता रहा है।

- बबरगंज के मोगलपुरा का कुख्यात टिंकू मियां व इम्तियाज मियां भी वर्षों से फरार है। टिंकू मियां करीब दर्जनभर मामले का फरार आरोपी है।

- हबीबपुर का राणा मियां भी एक दशक से अपराध में सक्रिय है। चार साल पहले जेल से निकलने के बाद वह फिर से सक्रिय अपराध की दुनिया में शामिल हो गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Top Five Criminals of the district on target of STF