class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कपड़ा व्यवसायी से रंगदारी मांगने का आरोपी व्यवसायी का बेटा धराया

कपड़ा व्यवसायी जयप्रकाश डोकानिया से रंगदारी मांगने के मामले में फरार चल रहे आरोपी व्यवसायी के पुत्र मयंक वर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया। एसएसपी ने कहा कि व्यवसायी पुत्र ने अपना अपराध कबूल लिया है। मामले में एक आरोपी मो. शाह आलम को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

पुलिस का दावा है कि मयंक के मोबाइल फोन में व्यवसायी से रंगदारी मांगने वाला मैसेज मिला है। पुलिस ने बताया कि रंगदारी प्रकरण के दौरान मयंक अक्सर आपराधिक छवि के मो. ताज से बातचीत करता था। वहीं, ताज का शाह आलम से ज्यादा बातचीत का रिकार्ड मिला है। पुलिस जांच में शाह आलम और मयंक वर्मा के बीच मोबाइल पर बातचीत का रिकार्ड मिला है। रंगदारी मांगने के समय दोनों के मोबाइल टावर का लोकेशन भी साथ-साथ मिल रहा था। कोतवाली इंस्पेक्टर पंकज कुमार सिंह ने बताया कि गुरुवार शाम कोर्ट में पेश करने के बाद मयंक को जेल भेज दिया गया।

मयंक की गिरफ्तारी के बाद गुरुवार को उसके पिता और परिवार वाले कोतवाली थाने पहुंचे। पिता ने कहा, ऊपरवाले ने कोई कमी नहीं दी है लेकिन बेटे के कारण सिर झुक गया। उसे कारोबार संभालने के लिए कहा जाता था लेकिन वह व्यवसाय पर ध्यान नहीं देता था। मयंक के पिता का सूजागंज बाजार में कपड़े का कारोबार है।

वेराइटी चौक स्थित भगवती कॉम्पलेक्स के कपड़ा व्यवसायी से 15 नवंबर को 20 लाख रुपए की रंगदारी मांगी गयी थी। 22 नवंबर को पुलिस ने फोन पर रंगदारी मांगने के आरोप में हबीबपुर थाना क्षेत्र के चमेलीचक गांव के मो. शाह आलम को गिरफ्तार किया था। शाह आलम ने पूछताछ में बताया था कि मयंक वर्मा ने जयप्रकाश डोकानिया का नंबर उपलब्ध कराया था। अंग्रेजी में मैसेज भी वही टाइप करता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Mayank Verma arrested for extortion case
From around the web