class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत और नेपाल मजबूत करेंगे सूचना तंत्र

भारत-नेपाल सीमा पर तस्करी, आपराधियों के सीमा पार आवाजाही को रोकने के लिए एक उच्चस्तरीय बैठक गुरुवार को चंदनचौकी में हुई। बैठक में तय किया गया कि दोनों देश अपने सूचना तंत्र को मजबूत करेंगे और आपस में सूचनाएं देंगे।

सीमा सुरक्षा से सम्बंधित अधिकारियों की संयुक्त बैठक सशस्त्र सीमा बल तृतीय वाहिनी बीओपी चंदनचौकी में एसएसबी सेकेंड कमांडेंट एचके गुप्ता की मौजूगदी में आयोजित हुई। बैठक में नेपाल पुलिस, आर्मस पुलिस, एसएसबी, वन विभाग व पुलिस के अधिकारियों ने हिस्सा लिया। बैठक में दोनों देशों के अधिकारियों ने सीमा पर लगे पिलरों की देखरेख, मानव तस्करी, मादक पदार्थों की तस्करी, जंगल के अंदर तस्करों द्वारा बनाए गए अवैध रास्तों, अवैध तरीके से मुद्रा का आवागमन एवं पंजाब की जेल से भागे आतंकियों आदि की सूचनाओं का आदान-प्रदान किया गया। इस दौरान बैठक में एसएसबी के सेकेंड इन कमांडेंट एचके गुप्ता, उप क्षेत्र संगठक सुशील कुमार, एसएसबी के एसआई राजेश कुमार, रेंजर प्रदीप वर्मा, एसआई पुलिस राजेश कुमार, डीएसपी आर्मस पुलिस नेपाल के प्रेम बहादुर रावल, एसआई जगदीश चंद्र हमाल, एसआई शंकर बोहरा, एसआई हंसुलिया शंकर दत्त पंत सहित भारत नेपाल के विभागीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India and Nepal will consolidate information systems