class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध संबंध के लिए हत्या, दो सगे भाइयों समेत चार को सजा

अवैध सम्बन्धों में बाधक बन रहे व्यक्ति को मौत के घाट उतारने के एक मामले सुनवाई करते हुए अदालत ने दो सगे भाइयों समेत चार आरोपियों को दोषी ठहराया है। एडीजे ने चारों को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अदालत ने सभी को 27-27 हजार रुपये जुर्माना भरने का भी आदेश दिया है। जुर्माना राशि जमा होने पर उसमें से आधे रुपये मृतक के आश्रितों को देने का आदेश दिया है।

खीरी थाना क्षेत्र के लोनपुरवा गांव के रहने वाले सुरेश के छोटे भाई की पत्नी से गांव के ही गंगू उर्फ़ गंगाराम के नाजायज सम्बन्ध थे। सुरेश को जब इसकी भनक लगी तो वह इसका विरोध करने लगा, जिससे गंगाराम सुरेश से रंजिश रखने लगा और उसे ठिकाने लगाने का ताना बाना बुनने लगा। 30 अप्रैल 2013 को गंगाराम अपने साथियों राजेंद्र,राठौर और उसके भाई पप्पू के साथ सुरेश के यहां आया। चारों सुरेश को हरगांव में डिस्टिलरी फैक्ट्री में काम करने के बहाने बुला ले गए। अगले दिन गांव के बाहर चंद्रभाल के गन्ने के खेत में सुरेश की लाश मिली। सुरेश की भालियों से गोदकर हत्या की गई थी। मृतक सुरेश की पत्नी ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने विवेचना करते हुए आरोपी गंगाराम की निशानदेही पर आलाकत्ल भाली बरामद की। सुबूतों के आधार पर पुलिस ने चारों के खिलाफ आरोपपत्र कोर्ट में दाखिल किया । मामले को साबित करने के लिए वादी बिटोला देवी,बरातीलाल,एसआई बलबीर सिंह,जन्मेजय सचान,डॉ एसके पांडेय समेत सात गवाहों को अदालत में पेश किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Four brothers convicted of murder