class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाहजहांपुर में अपहरण की फर्जी कहानी बनाने को हवालात में काटनी पड़ी रात

ससुराल वालों को फंसाने के लिए एक युवक ने अपने अपहरण की फर्जी घटना रची। इस पर पुलिस ने युवक को पूरी रात हवालात में बंद रखा। इसमे पुलिस को काफी परेशानी उठानी पड़ी।

क्षेत्र के बिरुआमई गांव निवासी विनोद कुमार बुधवार शाम अपनी ससुराल मदनापुर के कुनिया जमालपुर से लौट रहा था। करीब सात बजे उसने अपने पिता राजाराम को फोन किया। सूचना दी कि कुछ लोगो ने उसका अपहरण कर औदापुर के जंगलों में बांधकर डाल दिया है। कहा: अपहरण करने वाले ससुराल पक्ष के लोग हैं। राजाराम थाने पहुंचे। पुलिस को पूरी बात बताई। पुलिस राजाराम के साथ घंटों जंगल में विनोद की तलाश करती रही। रात करीब दस बजे सूचना मिली की विनोद अपने घर पहुंच गया। पुलिस उसके घर पहुंची। पुलिस को देख विनोद घबरा गया। पुलिस को अपने घर से कुछ दूरी पर स्थित ईख के खेत में ले गया। शक होने पर पुलिस विनोद को पकड़कर थाने ले आई। सख्ती बरतने पर विनोद ने सच उगल दिया।पुलिस ने पूरी रात विनोद को हवालात में बंद रखा। सुबह मांफी मांगने पर छोड़ दिया। दरोगा राजेंद्र शर्मा ने बताया कि विनोद का ससुराल पक्ष के कुछ लोगों से झगड़ा चल रहा है। इसी के चलते विनोद ने ससुराल वालों को फंसाने के लिए अपहरण की फर्जी घटना रची थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Fake Kidnapping Story Was Making The Night In Jail To Serve
From around the web