class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ताजमहल की लवर्स सीट हो जाएगी कवर

ताजमहल के सेंट्रल टैंक पर बनी डायना सीट (लवर्स सीट) वाले प्लेटफॉर्म पर चारों ओर बैरीकेडिंग कराई जाएगी। साथ ही सीढ़ियों को लकड़ी से कवर कराया जाएगा। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने यहाँ अकसर होने वाले हादसों को देखते हुए बुधवार को यह निर्णय लिया है।

लवर्स सीट वाले प्लेटफॉर्म पर लकड़ी के छोटे-छोटे पिलर लगाए जाएँगे। इन पिलर्स को एक दूसरे से नॉयलोन की रस्सी से बाँध दिया जाएगा। जिससे यहाँ आकर फोटो खिंचवाने वाला सैलानी उसी के अंदर रह सके। साथ ही सेंट्रल टैंक के किनारे भी बैरीकेडिंग कराई जाएगी। यहाँ भी सैलानी अंदर प्रवेश कर जाते हैं।

लवर्स सीट तक पहुँचने के लिए चारों तरफ से चार फुट ऊँची सीढ़ियाँ हैं। प्रतिदिन हजारों सैलानियों के चढ़ने-उतरने से यह सीढ़ियाँ घिस चुकी हैं। आए दिन लोग फिसलते रहते हैं। इसे रोकने के लिए विभाग द्वारा सीढ़ियों को लकड़ी से कवर कराया जाएगा।

90 के दशक में ताजमहल देखने आईं प्रिंसेज डायना इसी लवर्स सीट पर बैठी थीं। उन्होंने यहाँ ढेरों फोटो खिंचवाए थे। उस समय से ही इस सीट का नाम डायना सीट भी पड़ गया। किसी भी देश का राष्ट्राध्यक्ष बिना इस सीट पर बैठकर फोटो खिंचाए नहीं जाता।

खास बात यह है कि इस सीट से फोटो खिंचवाने से ताजमहल की चारों मीनारें आ जाती हैं। ताजमहल के वरिष्ठ संरक्षण सहायक मुनज्जर अली का कहना है कि यहाँ पर बैरीकेडिंग के बाद सैलानियों के फिसलने या नीचे गिरने की घटनाओं पर रोक लग जाएगी। विभाग के कर्मचारियों द्वारा भी पूरी नजर रखी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ताजमहल की लवर्स सीट हो जाएगी कवर