class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोरेन को मिला ताज, ली मुख्यमंत्री पद की शपथ

सोरेन को मिला ताज, ली मुख्यमंत्री पद की शपथ

अपने गठबंधन के दो मंत्रियों के साथ झामुमो के प्रमुख शिबू सोरेन ने तीसरी बार झारखंड के मुख्यमंत्री पद की बुधवार को शपथ ली और इसके साथ राज्य में लगभग एक वर्ष पुराने राष्ट्रपति शासन का अंत हो गया।

राज्यपाल के शंकरनारायणन ने मोराबादी मैदान में आयोजित एक समारोह में पांच दलों की गठबंधन सरकार के प्रमुख सोरेन को मुख्यमंत्री, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रघुवर दास और आजसू के प्रमुख सुदेश महतो को मंत्री पद की शपथ दिलाई।

राज्यपाल ने सोरेन को सदन के पटल पर आठ जनवरी तक अपना बहुमत साबित करने का समय दिया है। मंत्रिमंडल के विस्तार के संबंध में प्रश्न के जवाब में भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि गुरुजी के बहुमत सिद्ध कर देने के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जा सकता है।

शिबू सोरेन के पास 44 विधायकों का समर्थन प्राप्त है। 18 विधायक झामुमो, 18 भाजपा, दो जदयू , पांच आजसू और एक झारखंड जनाधिकार मंच के विधायक सरकार को समर्थन दे रहे हैं। चुनावों के बाद 81 सदस्यीय विधानसभा में त्रिशंकु स्थिति हो गई थी।

कांग्रेस और झाविमो (प्र) गठबंधन को 25 सीटें प्राप्त हुई हैं। विधानसभा उपचुनाव में हारने के बाद सोरेन को इस वर्ष जनवरी में पद से इस्तीफा देना पड़ा था। शिबू सोरेन ने 25 दिसंबर को सरकार बनाने का दावा पेश किया था। झारखंड में राजग के समर्थन से शिबू सोरेन पहली बार सरकार का नेतृत्व कर रहे हैं।

शपथ ग्रहण के बाद सोरेन ने कहा कि उनकी शीर्ष प्राथमिकता गरीबी उन्मूलन और किसानों को सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने की होगी। प्राथमिकताओं के बारे में पूछे जाने पर सोरेन ने कहा, पेट में अनाज, खेत में पानी। शपथग्रहण समारोह में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे । भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और झारखंड मामलों की पार्टी प्रभारी कएणा शुक्ला भी इस अवसर पर उपस्थित थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोरेन को मिला ताज, ली मुख्यमंत्री पद की शपथ