class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब मशीन से रुकेगी खर्राटों की खर-खर

अब मशीन से रुकेगी खर्राटों की खर-खर

ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने माचिस की डिबिया के आकार वाले एक ऐसे उपकरण का विकास किया है जिसके बारे में उनका दावा है कि यह खर्राटों को रोक देगा। इस उपकरण को छाती के साथ लगा दिया जाता है और यह दिल की उन मांसपेशियों को प्रेरित करता है जो नींद के दौरान वायु नलिकाओं को खुला रखती हैं।
   
एप्नेक्स सिस्टम नाम के इस उपकरण को इस तरह प्रोग्राम किया गया है कि यह अपने आप ऑन तथा ऑफ हो सकता है। इस्तेमाल करने वाला रोगी खुद भी इसे नियंत्रित कर सकता है। हालांकि यह उपकरण अभी परीक्षण के दौर से गुजर रहा है, लेकिन नींद में होने वाले श्वास रोध की समस्या को दूर कर सकता है जिससे दुनिया भर में लाखों लोग पीड़ित हैं।
    
श्वास रोध प्रौढ़ावस्था में पायी जाने वाली बेहद आम बीमारी है। खासतौर पर यह रोग मोटे लोगों को होता है क्योंकि गर्दन के पास मौजूद अतिरिक्त मांस नींद के दौरान उनकी श्वास नलिकाओं पर अतिरिक्त दबाव बना देता है। अगर इस बीमारी का इलाज नहीं किया जाए तो इससे उच्च रक्तचाप और दिल का दौरा पड़ने की आशंका हो जाती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब मशीन से रुकेगी खर्राटों की खर-खर