class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विमानन उद्योग पर रहा दुर्घटना व हड़ताल का साया

विमानन उद्योग पर रहा दुर्घटना व हड़ताल का साया

विमानन उद्योग के लिए यह साल हलचलों से भरा रहा और इस दौरान हेलीकाप्टर दुर्घटना में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई़एस़आऱ रेड्डी ने अपनी जान गंवाई। वर्ष 2008-09 में सभी विमानन कंपनियों को कुल 8,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। हालांकि वाई़एस़आऱ रेड्डी की हेलीकाप्टर दुर्घटना को छोड़कर विमानन कंपनियों को किसी दुर्घटना का सामना नहीं करना पड़ा।

अपनी मांगों को लेकर पायलटों द्वारा हड़ताल पर जाने के चलते जेट एयरवेज और एयर इंडिया के परिचालन कई दिनों तक ठप रहा। वहीं आर्थिक मंदी के चलते विमान यात्रियों की संख्या में तेज गिरावट दर्ज की गई।

दो विमानन कंपनियों इंडिगो और पैरामाउंट़ को छोड़कर सभी नियमित सेवा देने वाली कंपनियों को भारी घाटा उठाना पड़ा। जहां एयर इंडिया को 2008-09 में करीब 5,000 करोड़ रुपये का घाटा होने का अनुमान है, वहीं किंगफिशर एयरलाइन्स को 1,602 करोड़ और जेट एयरवेज़ को 1,032 करोड़ का घाटा हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विमानन उद्योग पर रहा दुर्घटना व हड़ताल का साया