class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिल्डर की कार का शीशा तोड़कर 15 लाख उड़ाए

शहर के एक नामी बिल्डर की कार का शीशा तोड़कर चोरों ने 15 लाख रुपयों से भरे ब्रीफकेस पर हाथ साफ कर दिया। चोरों ने पांच मिनट में इस घटना को अंजाम दिया। घटना स्थल से चार कदम पर पुलिस चौकी है। इसकी सूचना पाते ही चौकी इचार्ज समेत हल्के के एसएचओ व एसीपी मौके पर पहुंच गए।

आनन-फानन इलाके भर में नाकेबंदी कर जांच पड़ताल शुरु कर दी गई। देर रात चोरों के कई संभावित ठिकानों पर छापेमारी की गई। लेकिन चोरों का सुराग नहीं लगाया जा सका। खबर लिखे जाने तक पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया था।

शहर के ओजोन बिल्डर एण्ड डेवलपर्स प्राईवेट लिमिटेड के डायरेक्टर प्रवीन मंगला शुक्रवार शाम साढ़े पांच बजे अपनी सेवरोलेट एडब्ल्यूडी कार से सेक्टर-15 मार्केट अपने दोस्त कृष्णन आर्या से मिलने गए थे। उन्होंने कार पुलिस चौकी के पास सड़क किनारे पार्किग में खड़ी कर दी। सामने दोस्त की दुकान पर गए, पर वे नहीं मिले।

5.35 पर वापस आए तो कार के बाईं ओर बीच का शीशा टूटा हुआ था। कार की डिग्गी में 15 लाख रुपयों से भरा लेदर का बैग गायब था। यह देख वे परेशान हो गए। दौड़कर उन्होंनें सबसे पहले घटना की जानकारी चौकी इंचार्ज रामकुमार को दी। इसके बाद 5.37 बजे पुलिस कंट्रोल रुम को फोन कर सूचित किया। थोड़ी देर में वहां चौकी इचार्ज समेत एसएचओ सेंट्रल जीतेश कुमार व एसीपी विनोद कुमार कौशिक पहुंच गए।

मंगला ने बताया कि उन्होंने दो दिन पहले नई कार खरीदी थी। शुनिवार सुबह उन्हें अपनी पत्नी के साथ अलवर के पाण्डेपुल स्थित मंदिर के दर्शन के लिए जाना था। चोरी के डर से घर में रखे रुपए अपने दोस्त कृष्णन को अमानत के रुप में देने आए थे। वह दोस्त की दुकान तक गए थे। लौटकर वापस आए तो रुपए गायब मिले।

गौरतलब है कि गुरुवार को भी इसी तरह डीएलएफ में एक फैक्ट्री मालिक की कार का शीशा तोड़कर चोरों ने डेढ़ लाख रुपयों पर हाथ साफ कर दिया था। शीशा तोड़कर मॉल उड़ाने वाला गिरोह इन दिनों पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है।

घटना के बाद पुलिस ने इलाके के कई युवकों को रात में हिरासत में ले लिया। देर रात तक पूछताछ चलती रही। लेकिन चोरों का सुराग नहीं लग सका

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिल्डर की कार का शीशा तोड़कर 15 लाख उड़ाए