class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गन्ना विभाग में 178 पद खाली

गन्ना विभाग में अपर गन्ना विकास आयुक्त समेत 178 पद रिक्त पड़े है। चीनी उद्योग व गन्ना विकास मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि खाली पदों को भरने की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी। रिक्त पड़े उप-गन्ना आयुक्त के पद पर सहायक गन्ना आयुक्त वीएन मिश्र को प्रोन्नति दे दी गई है।

यह मामला बुधवार को कांग्रेस के प्रणव सिंह ने सदन में उठाया था। गन्ना मंत्री के मुताबिक श्रेणी ‘क’ में अपर गन्ना आयुक्त, संयुक्त गन्ना आयुक्त के पद खाली है। श्रेणी ‘ख’ में सहायक गन्ना आयुक्त के तीन, गन्ना निरीक्षक/सहायक चीनी आयुक्त व संख्याधिकारी का एक-एक पद खाली है।

श्रेणी ‘ग’ में प्रशासनिक अधिकारी ग्रेड प्रथम का एक, ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक के सात, सांख्यकीय सहायक का एक, प्रशानिक अधिकारी द्वितीय ग्रेड के दो, गन्ना विकास निरीक्षक के 54, खांडसारी निरीक्षक के दो, अन्वेषक कम संगणक के दो, मुख्य सहायक तकनीकी के दस, प्रवर सहायक कंप्यूटर के तीन, आशुलिपिक का एक, गन्ना पर्यवेक्षक के 86 व अपर सहायक/कनिष्ठ सहायक के दस पद खाली है।

राजपत्रित श्रेणी क और ख के नौ, अराजपत्रित श्रेणी ग और घ के 169 पदों समेत कुल 457 में से 178 पद खाली पड़े है। सहायक गन्ना आयुक्त वीएन मिश्र का उप-गन्ना आयुक्त के पद पर प्रमोशन हो जाने के बाद अब जिलों में सहायक गन्ना आयुक्तों के पद पर काम चलाऊ व्यवस्था लागू है। संयुक्त आयुक्त का चार्ज भी मिश्र को दिया गया है।

एससीडीआई शिशुपाल को हरिद्वार व देहरादून का प्रभारी सहायक गन्ना आयुक्त बनाया गया है। जबकि एससीडीआई जय सिंह को ऊधमसिंहनगर का प्रभारी सहायक गन्ना आयुक्त बनाया गया है। यह तैनाती हाल ही में की गई है। लेकिन जयसिंह 31 दिसम्बर को रिटायर हो रहे है। इसके बाद एससीडीआई (वरिष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक) देवेंद्र सिंह को ऊधमसिंहनगर के सहायक गन्ना आयुक्त पद पर तैनाती दी जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गन्ना विभाग में 178 पद खाली