class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छह पेट्रोल पंपों पर छापा, नमूने जांच के लिए भेजे

जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की टीम ने बुधवार को शहर के छह पेट्रोल पंपों पर छापामारी कर पेट्रोल और डीजल के नमूने लिए। सभी नमूने सीलबंद कर जांच के लिए नोएडा की एक प्रयोगशाला में भेजे गए हैं। पेट्रोल पंपों पर नमूने लेने की कार्रवाई देर शाम तक चली।

इन पेट्रोल पंपों के बारे में विभाग को लगतार शिकायतें मिल रही थीं। इनके आधार पर जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक रामअवतार के नेतृत्व में बल्लभगढ़ इलाके के चार पेट्रोल पंपों से पेट्रोल और डीजल की गुणवत्ता जांचने को नमूने लिए गए। दो नमूने सेक्टर 29 और 16 से लिए गए।

जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक रामअवतार ने बताया कि कई इलाकों से पेट्रोल-डीजल के बारे में शिकायत मिल रही थीं। इसके अलावा नमूने लेना विभाग का यह रुटीन काम भी है। विभाग हर महीने पेट्रोल-डीजल के नमूने लेता है।

इन पेट्रोल पंपों से लिए गए नमूने:

-शहीद जाकिर हुसैन फीलिंग स्टेशन बल्लभगढ़
-विकास फीलिंग स्टेशन बल्लभगढ़
-जोहर पेट्रोलियम कंपनी बल्लभगढ़
-इंलर फीलिंग स्टेशन बल्लभगढ़
-सावन ऑयल कंपनी सेक्टर-16
-अमन फीलिंग स्टेशन सेक्टर-29

फेल नहीं होते नमूने: अब इसे फरीदाबाद के पेट्रोल-डीजल कारोबारियों की ईमानदारी कहें या फिर कुछ और। लेकिन यह सच है कि फरीदाबाद के पेट्रोल पंपों के नमूने फेल नहीं होते। सभी नमूने पास हो जाते हैं। विभाग के रिकार्ड के अनुसार दो साल में कोई नमूना फेल नहीं हुआ।

अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत के जिलाध्यक्ष प्रदीप बंसल का कहना है कि नमूने विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत से पास होते हैं। कई पेट्रोलपंपों पर पेट्रोल-डीजल के मिलावटी होने की शिकायत वे कई बार कर चुके हैं। बंसल का आरोप है कि नमूनों के जांच के लिए असली पेट्रोल-डीजल भेजा जाता है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छह पेट्रोल पंपों पर छापा, नमूने जांच के लिए भेजे