class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सदन में गूंजा महिमा व कालाढूंगी हत्याकांड

मंगलवार को विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन सदन में रामनगर का महिमा हत्याकांड, रणवीर एनकाउंटर और कालाढूंगी कांड की गूंज रही। नेता प्रतिपक्ष डा. हरक सिंह रावत ने सत्ता प्रतिष्ठान में बैठे लोगों पर अपराधियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया।

हालांकि संसदीय कार्यमंत्री प्रकाश पंत ने सदन का अवगत कराया कि पिछले एक वर्ष में गंभीर प्रकृति के अपराधों में कमी आई है। उन्होंने यह भी बताया कि उत्तरकाशी से लापता अभियंता की जांच की संस्तुति सीबीआई को की जा चुकी है।

शून्यकाल में नियम-58 के तहत उठाए गए कानून व्यवस्था के मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष डा.हरक सिंह रावत ने सरकार पर तीखे प्रहार किए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की हालात लगातार बिगड़ती जा रही है। राजस्व पुलिस हड़ताल पर है। सत्ता में बैठे लोग अपराधियों को बचाने में लगे हैं।

उप-नेता तिलक राज बेहड़ ने कहा कि 17 नवम्बर को सात वर्षीय महिमा सेठ की हत्या करके शव को थाने के पास फेंक दिया गया। अमृता रावत ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों की घटनाएं सदन में रखीं।

कांग्रेस के राजेश जुवांठा ने हरबर्टपुर में दो भाइयों को गोली मारने की घटना से सदन को अवगत कराया। अगस्त से उत्तरकाशी से लापता सहायक अभियंता आनंद कुमार का मामला भी सदन में उठा।

बसपा ने जल संस्थान समेत कई विभागों में अनुसूचित जाति के रिक्त पड़े पदों को लेकर हंगामा किया। बसपा विधायक दल के नेता मो. शहजाद, सुरेंद्र राकेश, हरिदास आदि ने वेल में आकर हंगामा किया।

स्पीकर द्वारा इस मामले में चर्चा कराए जाने के आश्वासन के बाद ही बसपा सदस्य शांत हुए। संसदीय कार्यमंत्री प्रकाश पंत ने कहा कि बैक-लॉग अभियान चलाकर पदों को भरा जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सदन में गूंजा महिमा व कालाढूंगी हत्याकांड