class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कम ही मिलते हैं विदेश के मौके

प्रदेश की नाट्य संस्थाओं और रंगकर्मियों को विदेश में नाटक करने के मौके बहुत कम मिलते हैं। अकादमी की कोई प्रस्तुति कभी विदेश नहीं गई है।

कुलश्रेष्ठ बताते हैं कि लखनऊ की नीपा रंगमण्डली को यह अवसर मिला है कि उसने ‘भगवद्ज्जुकीयम’ तथा ‘बेगम और बागी’ जैसी प्रस्तुतियाँ पाकिस्तान, नार्वे सहित कई देशों मे की हैं। नौटंकी के प्रदेश के कुछ दलों ने जरूर विदेश में प्रस्तुतियाँ की हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कम ही मिलते हैं विदेश के मौके