class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लालकुआं में हाथी ने मचाई धमा चौकड़ी

शनिवार रात लालकुआं बस्ती में हाथी में घुस आया। हाथी ने जमकर उत्पात मचाया। घरों के बाहर रखा पानी पिया और पेटभर शाक सब्जी का लुप्त भी उठाया।

हाथी बस इतने में ही नहीं माना उसने चिघाड़ भी भरी । इसे सुनकर जागे शहरवासियों की धड़कन बढ़ गई।  उन्होंने किसी तरह हाथी को खदेड़ा तब जाकर उनकी जान में जान आई।

बताया जाता है कि रात करीब दो बजे मुख्य बाजार में हाथी घुस आया। उसने वन विभाग के कार्यालय पर जमकर धमा चौकड़ी मचाई। वन परिसर में रहने वाले वन कर्मी प्रेम सिंह के घर के बाहर रखा पानी पिया और बाल्टी तोड़ डाली।

पानी की लाइन भी तोड़ डाला। इसके बाद खेतों में शाक सब्जी खाई  और फुलवारियों को तहस नहस कर दिया। इसके बाद हाथी ने राजू पाण्डे व मन बहादुर के खेतों भी को रौंद डाला। बताया जाता है कि हाथी ने आधा दजर्न लोगों के खेतों को नुकसान पहुंचाया।

हाथी की चिघाड़ सुनकर लोग जाग गए। उन्होंने शोर मचाया ओर मशाल दिखाई तो हाथी तारबाड़ तोड़कर जंगल को वापस लौटा। शहर में हाथी के घुसने से लोगों भय व्यात है। 

क्षेत्रवासियों का कहना है कि जंगल में पोखर ओर तालबों के सूख जाने के कारण आबादी की तरफ रुख कर रहे हैं। उन्होंने हाथियों के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लालकुआं में हाथी ने मचाई धमा चौकड़ी