class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छरहरी काया

कई लोग जरूरत से ज्यादा व्यायाम करते हैं क्योंकि वह पूरी तरह फिट नहीं होते। ज्यादा व्यायाम करने के कई नुकसान हैं। परिणामस्वरूप दुर्घटना या भावनात्मक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। स्वस्थ शरीर के लिए जरूरी है कि आपका खान-पान बेहतर हो। इस बात पर गौर करें कि आप क्या और कब खाते हैं। बिना भोजन के दिमाग और मानसिक शक्ति कमजोर होती है। इससे बेचैनी होती है। ऐसे में यह आवश्यक है कि अपने स्वास्थ्य में सुधार के लिए लक्ष्य निर्धारित करें।
लक्ष्य-1 : अपने व्यवहार में परिवर्तन लाना।
लक्ष्य-2 : स्वस्थ और फिट रहने के लिए कोशिश करना।
लक्ष्य-3 : ऐसे लक्ष्य जिन्हें आप बेहतर तरीके से कर सकने में सक्षम हो, उनका निर्धारण करना।
नाजुक नाखून, पतले बाल, कमजोर दांत और हड्डी : बेहतर पोषण, आयरन और कैल्शियम, की कमी होना।
कब्ज : फाइबर युक्त खाने का सेवन न करने से कब्ज की शिकायत हो जाती है
दुर्घटना : बहुत जल्दी व्यायाम करने से दुर्घटना की संभावना रहती है।
हृदयगति : हृदयगति की लगातार जांच करते रहें। अगर इसकी स्पीड आठ से दस बीट प्रति मिनट से ज्यादा हो जाए, तो इसका मतलब है कि परेशानी बढ़ रही है।
सोने के पैटर्न में बदलाव : प्रतिदिन शरीर के काम करने की क्षमता एक समान नहीं होती। इसकी वजह से सोने के पैटर्न में बदलाव आ जाता है।
आपको सोने में दिक्कत महसूस होगी।
आप रात को जल्दी-जल्दी उठेंगे और नींद बार-बार खुलेगी।
सुबह उठने पर आपके शरीर में आलस्य रहेगा।
ध्यान में दिक्कत: ऊर्जा की कमी की वजह से रोजमर्रा के काम करने में भी दिक्कत होती है। अत: व्यायाम अपनी क्षमता के अनुसार करें।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छरहरी काया